Career Education

12वीं के बाद 2022 में कौन सा कोर्स होगा आपके लिए फायदेमंद?

 choosing a course after 12th and best career options 2022-23

Which course will be beneficial for you after 12th?
 12वीं के बाद कौन सा कोर्स होगा आपके लिए फायदेमंद?



12वीं के बाद सही कोर्स चुने, (How choose the right course after 12th), आपको कौन सा कोर्स करना चाहिए और कोर्स को चुनते समय किन किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए। इस आर्टिकल में यह आपको पॉइंट वाइज बताई जा रही है, इसे आप पढ़ें। 

 12वीं के बाद करियर स्कोप
Career scope after 12th

कुछ लोग सोचते हैं कि 12वीं के बाद कोई खास स्कोप नहीं होता है लेकिन अब वह समय नहीं रहा है,  नए कोर्स और नए  विषयों ( New courses and new subjects) पढ़ने के लिए यह समय है।  

यही ऐसा समय होता है अगर आप अपने कैरियर में 12वीं के बाद  सही कोर्स का चुनाव नहीं किया तो आगे पछताना पड़ सकता है। आज 12वीं के बाद  कैरियर के इतने अवसर है कि आप सही कोर्स course  select करें तो आपको फायदा ही मिलता है।

 education career

 career option things 

आज ढेरों कैरियर ऑप्शन आपके सामने बाहें खोलें खड़े हैं बस आपको सही कैरियर चुनना है जिससे कि आपका भविष्यवर सके।  नई शिक्षा नीति में 10वीं और 12वीं में ही लचीले सब्जेक्ट की वजह से आप 12वीं के बाद इनमें से कोई एक सब्जेक्ट पर  आधारित नए कोर्स को चुनकर एक नए करियर की शुरुआत (How start new career) कर सकते हैं।

coding एक नया करियर ऑप्शन बन सकता है जो आपको इंटरनेट और ऐप्स की दुनिया से जुड़ेगा। ( internet and Apps)

 

12वीं के बाद (After 12th ) कंप्यूटर के  सब्जेक्ट की स्टडी में रुचि है तो आप डिजिटल मार्केटिंग  और वेब डिजाइनिंग  के साथ  एप्स डेवलपमेंट  सीख सकते हैं  इस तरह का course  4 से 6 महीने से  साल भर तक के होते हैं।

 12वीं के बाद को चुनने के लिए कई तरह की सावधानियां आपको बरतनी चाहिए। आइए उसके बारे में यहां पर प्वाइंट वाइज (Point wise) चर्चा कर रहे हैं-

 नफा नुकसान की बात
(Matter of profit and loss New career selection)

जो कोर्स आप चुन (Course selection) रहे हैं उसका भविष्य क्या है? उसमें कैरियर की क्या संभावनाएं हैं? (What is the future of the course you are choosing?  What are her career prospects?) उससे आप कितना पैसा कमा सकते हैं इन बातों का ध्यान सबसे पहले रखें। (How much money you can earn from it, first of all keep these things in mind.)

 कन्फ्यूजन की स्थिति में किसी विषय विशेषज्ञ से सलाह ले या उसको से संबंधित व्यक्ति से परामर्श यानी एडवाइस जरूर लें। (In case of confusions, get advice from a subject matter expert or consult the person related to it.)

 दोस्तों न्यू ज्ञान यही है कि आप कैरियर को चुनते समय सावधानी रखें। 

(Friends, new gyan  is that you should be careful while choosing a career.)

कैरियर चुनते समय कैंपेन और विज्ञापन से सावधान रहें
(Be careful with campaigns and advertisements when choosing a career)

12वीं के बाद कोर्स (Course selection after 12th) को लेकर कई तरह के विज्ञापन और कैंपेन चलाए जाते ताकि स्टूडेंट को अपनी ओर आकर्षित कर सकें लेकिन आपको सावधान रहना है। इस तरह के किसी झांसे में नहीं आना है। कोर्स करने से पहले सही तरह से जानकारी हासिल करें। इसके लिए किसी काउंसलर से सहायता ले क्योंकि आपके भविष्य का सवाल है। (future career)

संस्थान के बारे में पूरी जानकारी हासिल करें और किसी के बहकावे में न आएं। कई लोग कोर्स में दाखिला दिलाने और  नौकरी की गारंटी भी ले लेते हैं। ऐसे लोग एजेंट हो सकते हैं। जिनकी दलाली फिक्स होती है इसलिए आप अपने करियर के प्रति संजीदा (सतर्क)  रहे और पूरी जांच पड़ताल के बाद ही कोई कदम उठाएं।

 जिस में मन लगे उसमें ही कैरियर बनाएं


(Make a career in whatever you want)

कोर्स का सिलेक्शन करते समय स्टूडेंट अपने इंटरेस्ट यानी रुचि का भी ध्यान रखें। (While selecting the course, students should also keep in mind their interest.)

अगर आप भीड़ के पीछे यह सोचकर चलेंगे कि आजकल इंजीनियरिंग और आईटी की डिमांड (Engineering and IT demand) है तो आपकी रुचि न होने के कारण आप  बेस्ट नहीं कर पाएंगे। 

aapakee ruchi na hone ke kaaran aap  best nahin kar paenge.

इससे  पता चला जिस विषय में आपकी रूचि होती उस में कैरियर बनाने पर आप उस कैरियर के कंपटीशन में सर्वश्रेष्ठ बन जाते हैं जबकि बेमन से चुना गया करियर मैं आप साधारण की योग्यता हासिल कर पाते हैं। कारण साफ है कि  जो इस स्ट्रीम या कोर्स आपने चुना है उसमें आपका मन नहीं लगता है।

दोस्तों की देखा देखी कैरियर न चुनें  

दोस्तों या किसी और की देखा देखी,  आप अपना कैरियर ना चुने क्योंकि आपकी रूचि और आपकी इच्छाएं अलग हैं। उनके मुताबिक आप सही करियर चुने जो  आपका भविष्य बना सके।

 आप सारी जानकारी हासिल करके ही करियर चुने जाने की प्लेसमेंट और उस कैरियर में Placement and career)  कितना आगे बढ़ने की संभावनाएं हैं, इन सब बातों को जानना जरूरी है। 

 यहां पर कुछ प्रोफेशनल कोर्सेस दिए जा रहे हैं। 12वीं के बाद कोर्सेस का चुनाव कर सकते हैं।   इस तरह के प्रोफेशनल कोर्सेज (Professional courses) आपके कैरियर के लिए फायदेमंद हो सकते हैं लेकिन सही कैरियर गाइडेंस के बाद ही इनमें से कोई एक प्रोफेशनल करियर 12वीं के बाद चुने।

प्रफेशनल कोर्सेज (Professional courses)

आईटी और मैनेजमेंट से जुड़े कोई कोर्स कर सकते हैं।

 बैचलर ऑफ बिजनस मैनेजमेंट (बीबीए), बैचलर ऑफ कम्प्यूटर ऐप्लिकेशंस (बीसीए), डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट, डिप्लोपा इन होटल मैनेजमेंट ऐंड कैटरिंग टेक्नॉलजी, बैचलर इन इन्फॉरमेशन टेक्नॉलजी (बीआईटी), प्रमोशन ऐंड सेल्स मैनेजमेंट, ट्रैवल ऐंड टूरिज्म, फैशन डिजाइनिंग, इवेंट मैनेजमेंट, पब्लिक रिलेशन जैसे कई प्रफेशनल कोर्सेज़ हैं, जो खूब डिमांड में हैं। ये ऐसे क्षेत्र हैं, जिनमें नौकरी का काफी स्कोप है।

Bachelor of Business Management (BBA), Bachelor of Computer Applications (BCA), Diploma in Hotel Management, Diplopa in Hotel Management and Catering Technology, Bachelor in Information Technology (BIT), Promotion and Sales Management, Travel and Tourism, Fashion Designing, Event  There are many professional courses such as management, public relations, which are in great demand.  These are areas in which there is a lot of job scope.

डिफेंस सर्विसेज़ (Defense services)

 देश के लिए कुछ करने का जज्बा आप के अंदर है तो नेशनल डिफेंस सर्विस (NDA) आपको बुला रहा है।  एनडीए (NDA) की तैयारी 11वीं कक्षा से ही करना शुरू कर दीजिए।  12वीं कक्षा में इसके प्रवेश के लिए एग्जाम दे सकते हैं और 12वीं क्लियर होने के बाद अगर आप एनडीए में सफल होते हैं तो आप की ट्रेनिंग शुरू हो जाती है यह एक ऐसा कैरियर है, जहां कम उम्र में मान सम्मान और अच्छा वेतन के साथ देश के लिए कुछ करने की इच्छा भी आपकी पूरी होती है। एनडीए में ट्रेनिंग के बाद आप अधिकारी का जॉब पाते हैं। (After training in NDA, you get the job of officer.)

मेडिकल फील्ड में स्कोप
(Scope in medical field)

 12वीं के बाद मेडिकल के क्षेत्र में कैरियर भी सुनहरा है।  हाई क्वालिटी  एजुकेशन इंस्टीट्यूट मैं आप डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए एमबीबीएस बीएमएस बीएचएमएस कोर्सो में दाखिला ले सकते हैं। After 12th MBBS, BMS BHMS courses.

 12वीं के बाद आप किसी प्रतिष्ठित संस्थान से बीएससी या बीएससी ऑनर्स की डिग्री ले सकते हैं। (BSc or BSc Honors Degree)

आजकल बायोटेक्नॉलजी, जेनेटिक्स, इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे विषयों में भी ग्रैजुएशन करने का विकल्प है। (Nowadays biotechnology, genetics, electronics Course option)

राज्य सरकार और केंद्र सरकार  के द्वारा चलने वाली सरकारी कॉलेजों के लिए कई मेडिकल  और इंजीनियरिंग का एंट्रेंस परीक्षा बारहवीं के बाद होती है इसमें भी आप एंट्रेंस में सक्सेसफुल हो कर आप  इंजिनियरिंग या मेडिकल कोर्स भी कर सकते हैं। 

कॉमर्स और कंप्यूटर साइंस 
(Commerce and Computer Science)

 आप कॉमर्स के क्षेत्र में भी आपके लिए बहुत से ऑप्शन खुले हुए हैं। इस क्षेत्र के छात्र एमबीए,  सीएस, सीए, फाइनैंशल ऐनालिस्ट में बेहतरीन करियर बना सकते हैं।

(Students of this field can make excellent careers in MBA, CS, CA, Financial Analysts)

.

 कंप्यूटर साइंस सदाबहार कैरियर है।  विज्ञान कला का अद्भुत संगम कंप्यूटर साइंस आपकी क्रिएटिविटी और वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देता है। कई कॉलेजों में बीएससी (ऑनर्स) कंप्यूटर साइंस कोर्स है। computer course करने के बाद कोई बेरोजगार  नहीं रहता है,  निजी रूप से आप कई तरह की सेवाएं दे सकते हैं जिसमें कोडिंग सिखाना एप्स बनाना डिजिटल मार्केटिंग करना वेबसाइट मेंटेंनिंग और क्रिएशन हार्डवेयर एंड सॉफ्टवेयर वर्क।

 आर्ट्स कैरियर आज भी दमदार  (Art me career)

 आज भले ही पेरेंट्स यह सोचते हैं कि साइंस के मुकाबले आर्ट स्ट्रीम में कैरियर ऑप्शन उतना अच्छा नहीं है तो यह सोचना बिल्कुल गलत है क्योंकि आज में भी बहुत संभावनाएं हैं।

बच्चे में क्रिएटिविटी और बात कहने का बेहतर तरीका उसके पास है और इस स्किल को डिवेलप नई शिक्षा नीति (new education policy 2020) के अंतर्गत किए जाने पर बहुत बल दिया जा रहा है।  आर्ट करियर

(Art career) में अभी भी स्किल प्रोफेशनल ( skill professional) की कमी है।

 इस क्षेत्र में सबसे चारमिंग कैरियर है आईएएस परीक्षा (IAS Exam) की तैयारी करना इसे आप 12वीं के बाद कर सकते हैं।

 Arts career के क्षेत्र में ऐसे विषय है, जिसे आप अपने कैरियर को नई उड़ान दे सकते हैं।

 इसमें लेखन से लेकर Acting career भी है।  नई शिक्षा नीति (new education policy 2020)  में इन बातों का बड़ा ही खास ध्यान रखा गया है कि साइंस विद्यार्थी को भी  आर्ट सब्जेक्ट पढ़ने का मौका मिले।

 आर्ट सब्जेक्ट पढ़कर गवर्नमेंट और नॉन गवर्नमेंट सेक्टर में आप अपने करियर को बुलंदी तक पहुंचा सकते हैं। इनमें से कुछ विषय हैं-

 जिनकी डिमांड सबसे अधिक है इनके कैरियर ऑप्शन भी कई तरीके के हैं- जैसे मान लीजिए कि राइटिंग ऑप्शन में टेक्निकल राइटिंग ऑप्शन है, (Writing option has technical writing option) उसी तरीके से फिल्म उद्योग में भी टेक्निकल राइटिंग ऑप्शन के साथ एक्टिंग और डायरेक्शन के कई ऐसे कोर्स है जो आपको सबसे अधिक प्रसिद्धि और धन दिला सकता है वह शायद किसी और कैरियर में उतना आसान ना हो। 

 आर्ट्स के कुछ विषय जो आपके कैरियर को सुनहरा बन सकता है
Arts career options

 

इकनॉमिक्स, साइकॉलजी, हिस्ट्री, फिलॉसफी आदि में ग्रेजुएट कर सकते हैं। आर्ट्स से ग्रैजुएशन के बाद आप सिविल सर्विसेज में जा सकते हैं। इसके अलावा एमबीए, जर्नलिज्म, मार्केट ऐनालिसिस, टीचिंग, एंथ्रोपोलॉजी, ह्यूमन रिसोर्स, एमएसडब्यू आदि में भी आपके सामने कई विकल्प मौजूद हैं।

One can graduate in Economics, Psychology, History, Philosophy etc.  After graduation from arts you can go to civil services.  Apart from this, you also have many options in MBA, Journalism, Market Analysis, Teaching, Anthropology, Human Resource, MSW etc.

( आपको या जानकारी कितनी मददगार लगी इसके बारे में कमेंट लिखकर जरूर बताएं अगर आपको किसी और विषय में विस्तृत जानकारी चाहिए तो उसके लिए भी कमेंट करें और यह जानकारी और लोगों तक पहुंचे इसके लिए आप इस लेख को शेयर करें अगर आपको कैरियर संबंधित कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं हम आपको उत्तर देंगे।)

About the author

admin

Hello friends!
New Gyan tells the words of knowledge with educational and informative content in Hindi & English languages. new gyan website tells you new knowledge. This is an emerging Hindi & English website in the Internet world. Educational, knowledge, information etc. new knowledge, new update, new method in a very simple and easy way.
Founder of Blog Founder of New gyan.

A. K Pandey - Teacher, Writer - Journalist, Blog Writer, Hindi Subject - Expert with more than 15 years of experience. Articles on various topics have been published in various magazines and on the Internet.
Educational Qualification- Master of Art. Professional Qualification-
Diploma in Journalism from Allahabad University, Master of Journalism and Mass Communication, B.Ed.

Leave a Comment