सीबीएसई के नए बदले पैटर्न से अब मेडिकल व इंजीनियरिंग इंट्रेंस एग्जामिनेशन की तैयारी होगी आसान

Newsdesk prakhar chetna
23 सितंबर को बोर्ड परीक्षाओं के लिए सीबीएसई ने

नया पैटर्न जारी कर दिया। एंट्रेंस परीक्षा में पूछे जाने वाले क्वेश्चन को ध्यान में रखते हुए अब 10वीं और 12वीं के सीबीएसई के छात्र उसी पैटर्न अनुरूप पढ़ाई कर सकेंगे क्योंकि सीबीएसई ने सभी विषयों के पेपर में ऑब्जेक्टिव टाइप के क्वेश्चन की संख्या को बढ़ा दिया है।  अब नए पैटर्न के अनुसार एमसीक्यू, फिल द, फिल द ब्लैंक्स, मैचिंग और मल्टीपल चॉइस वाले क्वेश्चन पूछे जाएँगे।
 एक्सपर्ट आशीष कांत पांडेय ने बताया कि इससे medical, engineering जैसी एंट्रेंस एग्जामिनेशन की तैयारी अब स्कूल में 9, 10 ,11, 12 की कक्षा के दौरान स्टूडेंट   कर पाएंगे क्योंकि इन सभी इंट्रेंस एग्जामिनेशन में ऑब्जेक्टिव टाइप के क्वेश्चन पूछे जाते हैं इस तरह सीबीएसई ने अपने पैटर्न में बदलाव करके स्टूडेंट्स को अब इंट्रेंस एग्जामिनेशन के लिए अलग से तैयारी करने की जरूरत नहीं होगी। 
सीबीएसई के पुराने पैटर्न में रिटेन लांग एंड शॉर्ट क्वेश्चंस ही ज्यादातर पूछे जाते थे। ऐसे में मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी करने वाले छात्र बोर्ड परीक्षा के बाद  वे कोचिंग का सहारा लेते थे। अब इस नए पैटर्न के अनुसार स्टूडेंट्स बोर्ड की परीक्षाओं की तैयारी के दौरान ही गहन अध्ययन कर सकेंगे। जिससे कि उन्हें ईंट्रेंस एग्जामिनेशन के लिए अलग से तैयारी करने की जरूरत नहीं होगी।

20 नंबर का होगा अब ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चंस। या पैटर्न सभी विषयों में लागू किया गया है।
सीबीएसई वेबसाइट पर जाने के लिए क्लिक करें

10 class सीबीएसई के नए पैटर्न और सैंपल पेपर के लिए click करें।
12 Class सीबीएसई के नए पैटर्न और सैंपल पेपर के लिए Click करें

  आपको यह पढ़ना अच्छा लगेगा
  11 लक्षणों से स्मार्ट बच्चों को पहचानें।  पढ़ने के
लिए क्लिक करें

शिक्षिका रंजना अवस्थी ने शिक्षा में पढ़ाने के तरीके में नये प्रयोग कर, सँवार दिया बच्चों का भविष्य।  पढ़ने के लिए क्लिक करें।

See also  रंग बदलने में चेंपियन rang badalne wale janwar

बीमारी है बार बार सेल्फी खींचना।  पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment