अब हिंदी अंग्रेजी के अलावा इन 13 भाषाओं में भी होगा CAPF’s कॉन्स्टेबल एग्जाम update

CAPF’s update : कैंडिडेट के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी आप हिंदी अंग्रेजी के अलावा कुल 13 भाषाओं में SSC CAPF’s Constable GD Exam का आयोजन किया जाएगा। हिंदी अंग्रेजी में पहले परीक्षा होती थी अब 13 दूसरी भाषाओं में परीक्षा होने के कारण छात्र अपनी भाषा में परीक्षा देकर कांस्टेबल बन सकते हैं।

new update SSC CAPF’s Constable GD Exam

जारी खबर के मुताबिक एसएससी जीडी कांस्टेबल भर्ती की तैयारी करने वाले कैंडिडेट के लिए यह खुशखबरी बहुत मायने रखती है। अपनी मातृभाषा में भी परीक्षा दे सकते हैं।

MBBS डॉक्टरी की पढ़ाई अब हिंदी में | medical study in Hindi language

Narendra Modi government का यह ऐतिहासिक फैसला इस फैसले के कारण आप क्षेत्र भाषा में पढ़ने वाले छात्रों को भी अपनी भाषा में कंपटीशन देने का मौका मिलेगा और अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे।

ताजा जानकारी के अनुसार CAPF कॉन्स्टेबल भर्ती पहले परीक्षा केवल हिंदी और अंग्रेजी माध्यम में ही होती थी। ऐसे में कैंडिडेट को हिंदी और अंग्रेजी का ज्ञान होना जरूरी होता था। लेकिन अब हो 13 भाषाओं में इस परीक्षा को आयोजित करने का निर्णय लिया गया है जो काबिले तारीफ है। इससे क्षेत्रीय भाषा को बढ़ावा मिलेगा। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र से जुड़े हुए अभ्यर्थियों को भी अपनी भाषा में परीक्षा पास करके नौकरी पाने का चांस मिलेगा। ‌ गृह मंत्रालय की केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CAPF) कांस्टेबल पद के लिए होने वाली भर्ती में हिंदी और अंग्रेजी के अलावा 13 क्षेत्रीय भाषाओं में परीक्षा आयोजित करने की मंजूरी दे दी गई है।

क्षेत्रीय भाषा को प्रोत्साहन

जानकारी के लिए बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह की पहल पर यह कदम उठाया गया है। इसके पीछे विचार या है कि सीएपीएफ में भी स्थानीय युवाओं की भागीदारी बढ़े। इसके साथ ही regional language को भी बढ़ावा मिले इसलिए एक जनवरी 2024 से यह व्यवस्था लागू की गई है।

See also  World Press Freedom Day 2023 | विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस अनुच्छेद जानकारी

पहले हिंदी और अंग्रेजी में होती थी परीक्षा

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तमिलनाडु तेलंगाना और कर्नाटक के नेताओं द्वारा सीआरपी भर्ती परीक्षा में केवल हिंदी और अंग्रेजी माध्यम में आयोजित करने पर कई आपत्तियां हुई।‌ इसके बाद होम मिनिस्ट्री के केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों constable recruitment general duty के पदों के लिए होने वाली परीक्षा हिंदी और अंग्रेजी के अलावा 13 क्षेत्रीय भाषाओं में आयोजित कराने की मंजूरी होम मिनिस्ट्री द्वारा जारी की गई है।

कॉन्स्टेबल एग्जाम CAPF’s update

कांस्टेबल जीडी भर्ती 13 रीजनल लैंग्वेज में आयोजित होगी। ‌ आइए जाने कौन-कौन सी भाषाओं में अब CAPFs सरकारी नौकरी की भर्ती चलिए परीक्षा आयोजित की जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आप हो निम्नलिखित में से किसी एक भाषा में कांस्टेबल जीडी भर्ती की परीक्षा दे सकते हैं।

केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल CAPFs

सबसे पहले आपको बता दें कि केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल जिसे CAPFs कहते हैं इसके अंतर्गत कांस्टेबल जीडी भर्ती यानी कांस्टेबल पोस्ट के लिए सामान्य ड्यूटी भर्ती के अंतर्गत निम्नलिखित विभागों में भर्ती की जाती है-
असम राइफल्स मैं निम्नलिखित पदों पर भर्ती होती है

SSF, राइफलमैन (GD)

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो

सिपाही भर्ती परीक्षा constable recruitment

हिंदी और अंग्रेजी के अलावा 13 क्षेत्रीय भाषाओं में भी यह परीक्षा आयोजित कराई जाएगी। आप अपनी मन पसंदीदा माध्यम से परीक्षा दे सकते हैं। निम्नलिखित रीजनल लैंग्वेज परीक्षा कराई जाएगी-

1. असमिया

2. बंगाली

3. गुजराती

4. मराठी

5. मलयालम

6. कन्नडा

7. तामिल

8. तेलुगू

9. उड़िया

10. उर्दू

11. पंजाबी

12. मणिपुरी

13. कोंकणी

See also  गूगल कोर्स फ्री सर्टिफिकेट, AI कोर्स करें लाखों कमाए | Google free AI Courses one day free certificate course

गृह मंत्रालय और कर्मचारी चयन आयोग अब कई भारतीय भाषाओं में परीक्षा कराने की सुविधा के लिए मौजूदा स्थिति में समझौता पर एक हस्ताक्षर करेंगे। जैसा कि बताया गया है कि अब एसएससी कांस्टेबल जीडी परीक्षा पूरे देश में अंग्रेजी और हिंदी के अलावा 13 क्षेत्रीय भाषाओं में भी कराया जाएगा। इस तरह से अपनी मातृभाषा में कैंडिडेट परीक्षा दे सकेंगे।

भाषा विवाद

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की भर्ती प्रक्रिया के लिए कुल 90212 पदों के लिए भर्ती निकाली गई थी। इसमें से 579 सीटें तमिलनाडु के लिए भरा जाना था। भर्ती परीक्षा के अनुसार हिंदी भाषा के 25 अंक दिए जाते हैं। हिंदी प्रदेश के छात्रों के लिए हिंदी के पेपर में अच्छा प्रदर्शन करते हैं इसके अलावा हिंदी प्रदेशों के लिए अनिवार्य हिंदी करने से इस भर्ती परीक्षा उन्हें परेशानी होती है।‌ इसलिए क्षेत्रीय भाषा में भी परीक्षा कराने का फैसला लिया ताकि सभी उम्मीदवारों को सरकारी नौकरी के इस कंपटीशन परीक्षा में समान अवसर मिल सके।

Leave a Comment