Paragraph Writing in Hindi (अनुच्छेद-लेखन), Definition, Tips, Examples

 Paragraph Writing in Hindi (अनुच्छेद-लेखन), Definition, Tips, Examples CBSE Board, and other Board class 7, Class 8, Class 9, Class 10, and Class 11 Class 12 Anuched Lekhan in hindi asking. New pattern, New Education policy 2024

Paragraph writing with example in Hindi

How can anuchchhed writing ine Hindi

अनुच्छेद लेखन क्या है? Anuched Lekhan in hindi

अनुच्छेद लेखन कैसे लिखें? How write Anuched  Lekhan in Hindi?

अनुच्छेद लेखन क्या हाता है? #Anuched Lekhan #Paragraph writing

अनुच्छेद लेखन के उदाहरण Anuched Lekhan ke Udaharan, Example of Anuched Lekhan 

अनुच्छेद-लेखन की परिभाषा 
Definition of Paragraph writing in hindi

जब मन में कोई भाव या विचार (Thought) आता है तो उसे सही तरीके से लिखना, लिखने में सहसंबंध (Relation) होना चाहिए और संक्षिप्त (लघु short) वाक्य समूह (Sentences) को

अनुच्छेद-लेखन (Paragraph Writing) कहते हैं?

दूसरी परिभाषा – किसी घटना, दृश्य या विषय को लघु (कम शब्दों में) परंतु सारगर्भित (सही अर्थों में) ढंग से लेखन-शैली (Style of writing) लिखने के तरीका में प्रस्तुत (Presentation) किया जाता है, उसे अनुच्छेद-लेखन (Paragraph writing) कहते हैं।

‘अनुच्छेद’ को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?

‘Paragraph’ कहते हैं। अनुच्छेद ‘निबंध’ का छोटा रूप होता है लेकिन इसमें किसी एक पक्ष पर विचार व्यक्त किया जाता है। अनुच्छेद की शब्द सीमा  (Paragraph words limitation) 80 से 100शब्दों का हाता है। एक अच्छा अनुच्छेद इतनी शब्दसीमा में होना चाहिए।

See also  UP Board Preparation Tips 2024 : Examination

अनुच्छेद अपने आप में स्वतंत्र होते है। ये अधूरे नहीं पूरे (Complete)होते है। इसका मुख्य विचार या आइडिया (Idea) से लखेनी शुरु होती है और अंत में निष्कर्स के साथ खत्म होता है। संकेत बिंदु  यानि दिये गये की वर्ड के अनुसार अनुच्छेद एकही पैरा में बिना सब हैडिंग दिए लिखना चाहिए। हाई स्कूल की बोर्ड और इंटर की बोर्ड परीक्षाओं (Cbse board Examination asking hindi Anuched lekhan) में इस बात को ध्यान में रखा जाता है।

How can anuched writing in Hindi tips

अनुच्छेद लिखते समय ध्यान रखें ये बाते – Paragraph writing in hindi 

(1) बोर्ड की परीक्षाओं में अगर अनुच्छेद लेखन के शीर्षक के साथ संकेत बिंदु या आधार बिंदु दिया तो आप उसी आधार पर लिखे। सीबीएसइ बोर्ड हिन्दी कक्षा 9 से 12 तक में आधार बिंदु के आधार पर ही अनुच्छेद लिखवाया जाता है। अगर नहीं संकेत बिंदु नहीं दिया है तो शीर्षक देखकर अनुच्छेद लेखन के लिए संकेत बिंदु बना लीजिए। 

(2) अनुच्छेद में हैंडिंग मत लिखें। पर्यावरण से बचाव के बारे में अनुच्छेद पूछा गया है तो बस उसी पक्ष बारे में लि​खें पर्यावरण के प्रकार आदि के बारे में मत लिखे क्योंकि अनुच्छेद की शब्द सीमा कम होती है इसलिए शीर्षक एवं संकेत बिंदु के आधार पर लिखना चाहिए। 

(3) अनुच्छेद की भाषा उलझाने वाली नहीं हो। छात्रों आप सरल वाक्य बनाए और अपनी बात को स्पष्ट और विषय के अनुसार रखें। अनुच्छेद में मुहावरें, कविता की कुछ पंक्तियों, कोटेशन  भाषा सरल, स्पष्ट और प्रभावशाली होनी चाहिए। 

(4) अनुच्छेद में एक ही बातों को बार बार न दोहराएं। अपनी बात को बिना दोहराए शीर्षक के अनुसार लिखें। क्योंकि इसे कम शब्दों में लिख जाता है।

 अनुच्छेद (paragraph writing in hindi) को तीन भागों में सोचें तो इसे लिखना और आसान हो जाता है। प्रारंभ, मध्य और अंत भाग है। प्रारंभ भाग में भूमिका जो दो लाइन लेकिन भूमिका की हैंडिंग नहीं लिखनी है। फिर संकेत बिंदु के आधार पर अपनी बात कहे। स्प्ष्ट, सरल और बिना दोहराएं। मुहावरें या कविता की दो पंक्तियां लिखें, जिससे बात प्रभावशाली हो जाए। जैसे समय प्रबंधन में कबीरा जी का ये दोहा आप लिख सकते हैं, काल करे सो आज कर, आज करे सो अब। पल में प्रलय होएगी,बहुरि करेगा कब। इस तरह से लिख सकते है। लेकिन ज्यादा विस्तार न करें। विषय में से भटके नहीं। 

See also  कौशल के लिए शिक्षा (Education for skill) pariksha pe charcha 2024

आधार बिंदु पर अनुच्छेद लेखन का उदाहरण (Paragraph writing Example in hindi)

उदाहरण दिए जा रहे हैं। इसका अध्ययन कीजिए। खुद से लिखने का प्रयास करें। न समझ में आएए तो कमेंट करें। ​लिखन से ही अनुच्छेद लेखन आएगा। छ़ात्रों यहां अनुच्छेद लेखन (Anuched lekhan) के कुछ उदाहरण दिया जा रहा है। बोर्ड की परीक्षाओं (Cbse board) में संकेत बिंदु के आधार पर अनुच्छेद (Sanket bndu ke adahar par anuched lekhan)लिखना पूछा जाता है। 

Term 2 class 10 hindi Nirala ki kavita questions answers

आधार बिंदु या संकेत बिंदु के आधार पर अनुच्छेद लेखन 80 से 100 शब्दों में लिखिए-

समाज में बढ़ती हुई अराजकता

संकेत बिंदु 

  • भूमिका 
  • अराजकता के कारण Arajkta ke karan
  •  अराजकता के प्रकार Arajkta Ke Prakar
  •  समाधान Samadhan
  • उपसंहार Upsanhar

मनुष्य इस समाज में रहने वाला सामाजिक प्राणी है। समाज की प्रगति का दायित्व मनुष्य के व्यवहार पर निर्भर करता है। आज अराजकता के कारण ईर्ष्या और दुर्भावना की सोच है। इस कारण कुछ इंसान स्वभिमान और इंसानियत को भूल गए हैं। अराजकता के कई प्रकार हैं, जैसे़- भ्रष्टाचार, शोषण, अत्याचार, बेईमान, डकैती चोरी, हत्या रिश्वतखोरी इत्यादि अपराधिक काम हमारे समाज को खोखला कर रही है। असामाजिक तत्वों की शीघ्र पहचान करके उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए। टेलीविजन, इंटरनेट, सोशल मीडिया और अखबारों के माध्यम से जागरूकता पैदा करनी चाहिए। अराजक बनकर समाज दूषित करने वाले के मन में डर तभी होगा जागरूकता और कानून के मोर्चे पर सरकार को सशक्त कदम उठाना चाहिए। तब हम एक उन्नत  समाज की स्थापना कर पाएंगे।  (लगभग 120 शब्द)

See also  Christmas Essay in Hindi, Paragraph writing | क्रिसमस दिवस पर निबंध

 #paragraph writing #samaj badhati arajkta in hindi

Paragraph writing in Hindi solar energy

सौर ऊर्जा का उपयोग (यूटिलिटी ऑफ सोलर एनर्जी इन हिंदी)
ईंधन के रूप में सौर ऊर्जा की आवश्यकता
नए ईंधन के विकल्प के रूप में सौर ऊर्जा

 #अनुच्छेद लेखन

  •  संकेत बिंदु
  • भूमिका या परिभाषा
  • सौर ऊर्जा के उपयोग के क्षेत्र
  •  सौर ऊर्जा से लाभ
  •  सौर ऊर्जा की कमियाँ
  •  निष्कर्ष

 सूर्य की किरणों को वैज्ञानिक तरीके से सोलर पैनल में एकत्रित कर विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित करके इलेक्ट्रिक उपकरण  को संचालित करना सौर ऊर्जा कहलाती है। सौर ऊर्जा का इस्तेमाल घर, कार्यालय, फैक्ट्री इत्यादि में विद्युत आपूर्ति के लिए किया जाता है। सौर ऊर्जा  अक्षय, सुरक्षित और प्रदूषण रहित है। खराब मौसम  और ठंडे स्थानों में  सोलर एनर्जी बहुत कम इकट्ठी हो पाती है। सोलर पैनल बहुत महँगा होने के कारण व्यावहारिक तौर पर  इसे लगाने में खर्च आता है। सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता देकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। विद्युत ऊर्जा बनाने के लिए सौर ऊर्जा तकनीक हमारे बहुमूल्य पानी और कोयला जैसे संसाधनों की बचत भी करते हैं इसलिए  सौर ऊर्जा का अधिक से अधिक इस्तेमाल को बढ़ावा दिया जा रहा है।

  paragraph writing in Hindi on solar energy

 सौर ऊर्जा पर अनुच्छेद लेखन

 सौर ऊर्जा के उपयोग पर अनुच्छेद लेखन

छात्रों आशा है कि आपको अनुच्छेद लेखन के इन उदाहरणों से काफी कुछ समझ में आया होगा, अगर आप चाहते की और विषयों पर भी अनुच्छेद लेखन यहां पर लिखें तो इस पोस्ट पर आप कमेंट करें कि कौन कौन विषय पर अनुच्छेद लेखन आप चाहते हैं। पढ़ने के लिए धन्यवाद!

 क्लिक करके इसे भी पढ़ें

अनुच्छेद लेखन CBSE Board Class 9

अनुच्छेद लेखन paragraph writing in hindi पूरी जानकारी

क्षितिज भाग 2 कक्षा 10 में चलने वाली किताब सीबीएसई बोर्ड हिंदी पाठ्यक्रम के सभी एमसीक्यू पढ़ें जो आपकी परीक्षा के लिए इंपोर्टेंट है.

संदेश लेखन massege writing में आपको दिक्कत हो रही है तो इस पर क्लिक करें और जानें सबसे सरल ढंग से संदेश लेखन हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षाओं के लिए बहुत उपयोगी.

अनुच्छेद लेखन हिंदी में वीडियो क्लास क्लिक करें यूट्यूब में उदाहरण के साथ समझाया गया है-

Leave a Comment