बैंक को हिंदी में क्या कहते? Bank in Hindi

0

बैंक को हिंदी में क्या कहते? Bank in Hindi

इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं बैंक को हिंदी (Hindi of bank) में क्या कहते हैं? Bank words in English लेकिन हिंदी में क्या कहा जाता है? इस को लेकर कई तरह के प्रश्न प्रतियोगी परीक्षा (tricky question competitive examination) में भी अचानक पूछ लिए जाते हैं।‌ लेकिन जवाब नहीं रहता है। सोचना पड़ता है तो आज हम आपको बता रहे हैं कि बैंक (Bank) अंग्रेजी शब्द है जिसका अर्थ होता है, ऐसी जगह जहां पैसे की लेनदेन की जाती है। bank is the English noun word.

Bank in Hindi

English word bank noun अंग्रेजी शब्द बैंक संज्ञा है। बैंक शब्द का हिंदी मतलब‌ (what is the meaning of the bank) अधिकोष होता है।
कोष का मतलब खजाना। कोष का मतलब रुपया पैसा खजाना धन दौलत यहां इकट्ठा रखा होता है उसे कहा जाता है।
कोश का अर्थ धन दौलत से नहीं बल्कि संघर्ष होता जैसे शब्दकोश (dictionary)।
कोष शब्द जहां रुपया पैसा इकट्ठा होता है।‌ कोष संस्कृत का मूल शब्द है। इसमें :अधि’ उपसर्ग लगा दे तो अधिकोष कहा जाता है, जिसे हिंदी में बैंक अंग्रेजी में बैंक कहते हैं।
आधिकोष मतलब जहां रुपया पैसा रखा जाता है। रुपया पैसा, लेन देन होता है जमा निकासी होती है उसे बैंक कहते हैं।

बैंक (अधिकोष)

Banker बैंक (अधिकोष) ऐसी जगह है जहां पर वित्तीय लेनदेन की जाती है। जहां पैसे जमा करने पर ब्याज मिलता है। कैशियर को रोकड़कर्मी कहा जाता है।

बैंक में कई ऐसे शब्द है जो इंग्लिश में ही प्रचलित होते हैं लेकिन बैंक के मानक हिंदी शब्दावली भी बनाई गई है। जिसका उपयोग बैंकिंग काम और कार्यालय में किया जाता है। लेकिन बैंक के ग्राहकों को यह बात इसलिए नहीं मालूम होती क्योंकि अधिकतर बैंक के अंग्रेजी शब्द ही प्रचलित है।

Saving account हिंदी
आपको बता दें कि बैंक

बैंक के सेविंग अकाउंट को बचत खाता कहते हैं। एस cash Money नकद मुद्रा कहते हैं। बैंक अधिकारी को अधिकोष अधिकारी कहते हैं।

महाजनी शब्द और बैंक

बैंकिंग प्रणाली अंग्रेजों के समय विकसित हुई है। लेकिन पुराने मैं बाइक नहीं होता था बल्कि महाजनी और साहूकार होते थे जो जरूरतमंद को ब्याज दर पर पैसा देते थे। क्योंकि इस पर किसी तरह का सरकारी नियंत्रण नहीं होता था इसलिए महाजन या साहूकार कर्ज देते समय ब्याज की धनराशि काट लेते थे। और हर महीने या साल में ब्याज की गणना करते थे। यह ब्याज बहुत अधिक होता था। किसान, मजदूर ब्याज के चंगुल में फंस जाता था और अपनी जमीन जायदाद कर चुकाने में बेच देता था या साहूकार उस से ले लेता था। इसीलिए सरकार ने बिना लाइसेंस के महाजनी और ब्याज देने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

Agripreneur word meaning in hindi कृषि उद्यमी new career 2023

मूलधन किसे कहते हैं

जब कोई कर्ज के रूप में जो धन लेता है, उसे मूलधन कहते हैं। और उससे ध्यान पर जो ब्याज लगता है उसे ब्याज कहते हैं। महीने या साल (समय) अनुसार मूलधन पर जिस दर पर यानी प्रतिशत पर ब्याज लगता है उसे ब्याज दर कहते हैं।
ब्याज दर (intrest rate) की गणना हमेशा सालाना होती है। ‌

Leave A Reply

Your email address will not be published.