Class 10 to 12 Hindi

पत्र लेखन: CBSE board Hindi letter writing क्लास 10th परीक्षा उपयोगी उदाहरण सहित

patra lekhan in hindi cbse board solution
Written by Abhishek pandey

इस एकेडमी लेख के लिए के जरिए CBSE board हिंदी letter class 10th की परीक्षा में उपयोगी पत्र-लेखन उदाहरण सहित समझा रहे हैं। Board Examination Hindi written paper asking 5 marks letter. हिंदी का लिखित paper 80 नंबर का होता है। इसमें 20 नंबर का लेखन पूछा जाता है। लेखन में अनुच्छेद लेखन (paragraph writing) 5 अंकों का पूछा जाता है। जबकि पत्र लेखन letter writing 5 अंकों का पूछा जाता है, इसके अलावा ईमेल राइटिंग, संदेश राइटिंग, स्ववृत लेखन (biodata), NCERT CBSE board solution. educational for class 9 to 12 in Hindi subjects. it’s article is very important for learning Hindi subjects.

पत्र लेखन की परिभाषा

जब सूचना और विचार किसी पत्र (पन्ने) पर लिखा जाता है तो उसे पत्र-लेखन कहते हैं। पत्र-लेखन बहुत पुरानी परंपरा है। पत्र-लेखन (letter-writing) का कार्य आज कार्यालयों खूब प्रचलित है। पत्र लेखन का प्रारूप ईमेल राइटिंग में भी इस्तेमाल होता है।

पत्र के प्रकार

पत्र लेखन दो प्रकार के होते हैं-

पत्र लेखन दो प्रकार के होते हैं।

अनौपचारिक पत्र I ऐसे पत्र होते हैं जो दोस्तों सगे संबंधियों रिश्तेदारों को लिखे जाते हैं। अनौपचारिक पत्र में किसी भी तरह की औपचारिकता नहीं होती है इसलिए इसे अनौपचारिक पत्र कहते हैं। अनौपचारिक पत्रों के माध्यम से भावों और विचारों को संबंधित व्यक्ति के साथ लेखन के द्वारा प्रकट किया जाता है। इसमें ऐसा लगता है जैसे व्यक्ति आपस में बैठकर बात कर रहे हो।
माता-पिता भाई-बहन रिश्तेदार नातेदार दोस्त इत्यादि को लिखा जाने वाला पत्र अनौपचारिक पत्र होता है।

See also  AI boon or curse essay कृत्रिम बुद्धिमत्ता वरदान या अभिशाप निबंध 800 शब्दों में | essay and paragraph writing artificial intelligence

औपचारिक पत्र (informal letter)


इस तरह के पत्र कंपनी कार्यालय शिक्षण संस्थान विश्वविद्यालय, प्रकाशक, व्यापारियों द्वारा लिखा जाता है।
संस्था के प्रमुख द्वारा किसी दूसरे कंपनी संस्था आदि के प्रमुख को लिखा जाने वाला पत्र औपचारिक पत्र होता है इसमें आत्मीयता नहीं होती बल्कि सूचनाओं का आदान-प्रदान होता है। संदेश प्रेषित किए जाते हैं।

अनौपचारिक पत्र लेखन के प्रारूप

अब आपको हम अनौपचारिक पत्र-लेखन के प्रारूप के बारे में बताने जा रहे हैं। informal letter अनौपचारिक पत्र लेखन

letter format in Hindi language पत्र लेखन का प्रारूप

  1. लिखने वाले का पता तारीख
  2. संबोधन संबंधित रिश्ते के अनुसार होना चाहिए
  3. विषय वस्तु
  4. समापन हस्ताक्षर

बड़ों के लिए संबोधन

संबोधनअभिवादन
पत्र का समापन
माता पिता गुरुजन के लिएपूज्य, पूजनीय, वंदनीय, पूज्य प्रिय
सादर प्रणाम, चरण स्पर्श, नमस्कार,आपका आज्ञाकारी स्नेहाभिलाषी शुभचिंतक
अपने से छोटों के लिएप्रियशुभाशीर्वाद, सौभाग्यवती स्नेहहितेषी, शुभचिंतक, अभिन्न ह्रदय, दर्शनाभिलाषी, हितकारी
मित्रप्रिय, प्रियवरस्नेह मधुर स्मृतितुम्हारा अभिन्न मित्र
Sambhodan

औपचारिक पत्र के उदाहरण

विद्यालय में हुए वार्षिक उत्सव का वर्णन करते हुए अपने मित्र को एक पत्र लिखिए।Write a letter to your friend describing the annual function held in school.

परीक्षा भवन
नई दिल्ली
30 अगस्त, 2023

प्रिय मित्र रवि,
सप्रेम नमस्कार,

मित्र तुम्हारा पत्र आज प्राप्त हुआ। यह जानकर प्रसन्नता हुई कि तुम कुशल पूर्वक हो और पढ़ाई मन लगा कर कर रहे हो। हम लोग यहां कुशलपूर्वक रह रहे हैं। हमारे विद्यालय में वार्षिक उत्सव कार्यक्रम का आयोजन हुआ इसके बारे में मैं तुम्हें बताना चाहता हूं। इसकी तैयारियां पिछले 1 महीने से चल रही थी। कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम जैसे नृत्य-गीत-संगीत का मंचन हुआ। वार्षिक उत्सव कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में हमारे जिले के शिक्षा अधिकारी जी पधारे थे। उनका भाषण प्रभावशाली रहा हमें बहुत कुछ सीखने को मिला।
मित्र मैंने भी इस वार्षिक उत्सव समारोह में बढ़-चढ़कर प्रतिभाग किया। दर्शक दीर्घा में बैठे सभी लोगों ने हमारी तारीफ की और तालियां बजाकर हमारा उत्साहवर्धन किया। हमने महात्मा गांधी जी के जीवन पर एक नाटक ने प्रस्तुत किया था जिसमें हम सभी 5 छात्रों ने प्रतिभाग किया था। यह नाटक प्रभावशाली रहा।
अंत में पुरस्कार वितरण समारोह हुआ जिसमें मुझे भी अपनी कक्षा में सबसे अधिक अंक लाने के लिए पुरस्कार प्राप्त हुआ। यह मेरे लिए बड़ी प्रसन्नता का दिन था। यदि तुम भी वहां होते तो बहुत ही अच्छा लगता।
घर में सभी को मेरा अभिवादन कहना। ‌
इस पत्र के उत्तर की प्रतीक्षा में-
तुम्हारा मित्र
अभिनव

See also  hindi word हिंदी भाषा के सही शब्द अर्थ

पत्र लेखन उदाहरण Letter Writing Examples in hindi

cbse class 10 NCERT solutions Later Writing for examination practice.

आप रवि वर्मा है, एक दैनिक समाचार पत्र के संपादक को अपनी कविता प्रकाशित कराने के लिए अनुरोध करते हुए 100 शब्दों में एक पत्र लिखिए।

दिनांक: 1 फरवरी, 2023

संपादक महोदय

न्यू ज्ञान डॉट कॉम

दैनिक समाचार पत्र

नई दिल्ली।

महोदय,

विनम्र प्रार्थना है कि मैं दसवीं कक्षा का छात्र हूं। आपकी वेबसाइट एवं समाचार पत्र का नियमित पाठक हूं। आपके समाचार-पत्र से प्रकाशित होने वाली ‘नयी रचना’ स्तम्भ के लिए मैं एक स्वरचित और मौलिक कविता इस पत्र के साथ संलग्न कर रहा हूं एवं विनम्र अनुरोध करता हूं कि मेरी इस छोटी-सी कविता को प्रकाशित करने की कृपा करें। आशा है कि समाचार पत्र के विशेष स्तम्भ ‘नयी रचना’ में मेरी कविता अवश्य प्रकाशित कर मेरा उत्साहवर्धन करेंगे।

धन्यवाद सहित

भवदीय

रवि वर्मा

समाचार पत्र के संपादक को Letter writing in Hindi

बारिश के दिनों में सीवर लाइन के मेनहोल खुले रहने के कारण होने वाले दुर्घटना के संबंध में जागरूक करते हुए समाचार पत्र के संपादक को पत्र लिखिए ताकि भी इस पर समाचार लिखकर प्रकाशित कर सके।

पत्र लेखन- letter writing example: Write a letter in Hindi language in 100 words requesting the newspaper to publish a news article in reference to the main hall of the sewer line lying open during the rains.

यूपी बोर्ड सीबीएसई बोर्ड पत्र लेखन the example of UP board CBSE board later writing for class 10th and 12th

प्रेषक
लल्लू कुमार
संगीत कॉलोनी,
राजगीरी नगर।

See also  Email lekhan कैसे करें cbse class 10, 9 Email writing in hindi

दिनांक: 15 जनवरी, 2024

सेवा में,
संपादक
न्यू ज्ञान समाचार पत्र
सर्वोदय नगर।

विषय- सीवर लाइन के मेनहोल खुले होने के संदर्भ में।

महोदय,

आपके समाचार पत्र के माध्यम से मैं नगर निगम के अधिकारियों का ध्यान नगर में जगह-जगह पर खुले पड़े सीवर के मेनहोल की ओर आकर्षित कराना चाहता हूं।

आपके सम्मानित समाचार पत्र के माध्यम से मैं नगर निगम के अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराना चाहता हूं कि नगर में जगह-जगह पर खुले पड़े सीवर के मेनहोल दुर्घटना के कारण बन रहे हैं। आपसे अनुरोध है कि मेरे इस पत्र को अपने समाचार पत्र के कॉलम ‘पाठकनामा’ में प्रकाशित करने की कृपा करें।

महोदय इस समय मौसम वर्षा ऋतु का है। इस साल पानी अधिक बरसने के कारण हर जगह गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। जबकि जगह-जगह पर खुले पड़े सीवर के मेनहोल बड़ी दुर्घटना को आमंत्रण दे रहे हैं। सड़कों पर यहां-वहां पानी भरा हुआ है, पैदल चलने वाले और वाहन चालकों को इस बात का आभास नहीं होता है कि कहां कौन सा सीवर मेनहोल खुला हुआ है। ऐसी स्थिति में यदि कोई मैनहोल में गिर जाता है तो बहुत बड़ी दुर्घटना का कारण यह मेनहोल बनता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले 5 दिनों में आधा दर्जन से अधिक लोग खुले हुए मेनहोल के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो गए हैं। लेकिन बड़े खेद की बात है कि नगर निगम के अधिकारी और कर्मचारी कुंभकरणीय नींद से जागे नहीं है। इसलिए आपके सम्मानित समाचार पत्र के माध्यम से मेरा यह पत्र पढ़कर नगर निगम के अधिकारियों और कर्मचारी जागृत हो जाए। इस समस्या का निदान करने हेतु वे उचित कार्रवाई के लिए सचेत हो जाएंगे।

भवदीय

लल्लू लाल
अबस नगर


CBSE BOARD EXAM 2023: 10वीं और 12वीं CBSE passing mark क्या है?

डायरी लेखन हिंदी| Diary writing in Hindi diary| lekhan Hindi mein| डायरी-लेखन के उदाहरण, डायरी-लेखन क्या होता है? class 6, 7, 8,9, 10

Swavrit lekhan CBSE board class 10th| स्ववृत्त लेखन के उदाहरण biodata example in Hindi

लघुकथा लेखन कैसे लिखें? Laghu Katha Lekhan what is the laghu Katha Lekahan

About the author

Abhishek pandey

Author Abhishek Pandey, (Journalist and educator) 15 year experience in writing field.
newgyan.com Blog include Career, Education, technology Hindi- English language, writing tips, new knowledge information.

Leave a Comment

हिंदी में बेस्ट करियर ऑप्शन, टिप्स CBSE Board Exam tips 2024 एग्जाम की तैयारी कैसे करें, मिलेगा 99% अंक