JEE परीक्षा की तैयारी के लिए टिप्स | How To Prepare For JEE Mains 2024

Career Guidelines Tips में हम आपका स्वागत करते हैं और आज आपको बताने जा रहे हैं कि JEE NEET के पूरे सिलेबस की तैयारी के कैसे करें। How To Prepare For JEE Mains 2024 Tips आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाली है। हमारे विषय विशेषज्ञ टीम ने इसे खास आपके लिए तैयार किया है।

हर किसी का सपना होता है कि अपने एग्जाम को वह पहले ही अटेम्प्ट में क्रैक कर ले। लेकिन इसके पीछे आपको कड़ी मेहनत और खास विषय विशेषज्ञ टिप्स की जरूरत होती है।  JEE और NEET क्रैक पहले प्रयास में करना आपके लिए बहुत आसान है, हम आपकी मदद करने वाले हैं, इस पूरे लेटेस्ट अपडेट से हमसे जुड़े रहें।

 Tips For Attempting JEE Main

हर स्टूडेंट का सपना होता है कि उसे सफलता जल्द हासिल हो। पहले प्रयास में सफलता मिल जाती है तो जीवन बहुत आसान लगने लगता है।  जेईई और एनईईटी की प्रिपरेशन कर रहे हैं तो आपका सपना पूरा हो सकता है आप कड़ी मेहनत के साथ जरूरी आइडिया और टिप्स का भी इस्तेमाल करें इस तरह से कम मेहनत में बेहतर सफलता की ओर बढ़ सकते हैं।

प्लानिंग बनाकर तैयारी करने के फायदे

किसी भी परीक्षा में सफलता तभी हासिल की जा सकती है जब आप स्मार्ट प्लानिंग बना सके। आपके लिए सही टाइम टेबल होना चाहिए। इस टाइम टेबल को फॉलो करके आप अपने सिलेबस को अच्छे तरीके से पूरा कर सकते हैं लिए इसके बारे में पूरी जानकारी सिलसिले बार प्रस्तुत कर रहे हैं।

See also  छात्रों के लिए बड़ी खबर रद्द हो सकते हैं CBSE Practical परीक्षा

तैयारी में समय को समझे

समय बड़ा बलवान होता है अगर थोड़ा पीछे चलकर देखें तो बीते हुए समय से अगर कोई काम शुरुआत कर देते तो आज पूरा हो जाता लेकिन देर नहीं हुई है आप भी आप तैयारी कर दें तो निश्चित ही सफलता मिलेगी। JEE और NEET की तैयारी को टाइम टेबल के नियमों से बांधकर रखें निश्चित को हासिल होगी।

11वीं कक्षा से तैयारी शुरू कर दें

जेईई और एनईईटी की एग्जामिनेशन में शामिल होना चाहते हैं तो इसके लिए 11वीं कक्षा से ही पढ़ाई शुरू कर देनी चाहिए। पढ़ाई का नजरिया आपके सब्जेक्ट के साथ इन कंपटीशन के सिलेबस के अकॉर्डिंग भी पढ़ना शुरू हो जाना चाहिए।

इस तरह आपको अपने तैयारी का सही समय और लक्ष्य का पता चल जाता है पहले ही प्रयास में सफलता हासिल हो जाती है। 11वीं कक्षा से भी पढ़ाई का सही टाइम टेबल फॉलो करना शुरू करते हैं तो आपको जेईई और एनईईटी परीक्षा में सफलता पहले ही प्रयास में मिल जाती है।

न्यूमेरिकल क्वेश्चन को समझें और इसमें बनाएं अपनी पकड़

अगर आप एग्जामिनेशन में एक बेहतरीन स्कोर करना चाहते हैं तो न्यूमेरिकल के सवाल (Numerical Questions) में आपको अच्छी पकड़ बनानी होगी। हर दिन 80 से 90 न्यूमेरिकल प्रश्नों को हल करने की कोशिश करें।

जितनी तेजी से कैलकुलेशन करेंगे उतनी ही तेजी से आपके न्यूमेरिकल प्रश्न हल होंगे। जेईई और एनईईटी परीक्षा का सफलता का मुख्य आधार यही है कि आप न्यूमेरिकल सवालों के प्रश्नों के उत्तर में उलझे नहीं। यानी कि आपका सब्जेक्टिव और न्यूमेरिकल कांसेप्ट क्लियर होना चाहिए।

पढ़ने वाले टॉपिक की बनाएं लिस्ट

तैयारी करने वाले सिलेबस के अनुसार Study करते हैं।‌ इसलिए सिलेबस के अनुसार पढ़ने वाले टॉपिक की लिस्ट बनाकर तैयारी करें।

See also  Is Keiser University Legit: An Honest Review

यह जरूरी है कि आप फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ के विषयों को तैयारी टाइम टेबल के अनुसार लिस्टिंग करके करें। जैसे ही आपका टॉपिक क्लियर हो जाता है वैसे नए टॉपिक पर बढ़ने से पहले पुराने टॉपिक को रिवाइज करना न भूले। Revision is the best method of preparation of competitive examination.

समय प्रबंधन की कला सीखें

पहली बार सफलता हासिल करने के लिए समय प्रबंधन यानी टाइम मैनेजमेंट करना बहुत जरूरी है। पढ़ने के समय का सही उपयोग कर लेंगे तो निश्चित सफलता के करीब पहुंच जाएंगे।

  • Mock test
  • Sample paper
  • Last 15 years question paper solving
  • Daily numerical question practice

जैसे की पढ़ाई के साथ मॉक टेस्ट और न्यूमेरिकल के सवाल लगाना बड़ा जरूरी हो जाता है इसके साथ आप समय-समय पर सैंपल पेपर को करके अपनी कॉन्फिडेंस को बढ़ा सकते हैं।

  • इस चक्कर में ना रहे की सैंपल पेपर को तभी हल करेंगे जब पूरा सिलेबस तैयार हो जाएगा, जितना भी टॉपिक आपने तैयार किया से सैंपल पेपर से उन प्रश्नों के उत्तर लिखकर अपने अंदर कॉन्फिडेंस पैदा करें।
  • धीरे-धीरे जब सिलेबस पूरा तैयार कर लेंगे तो सैंपल पेपर को एग्जामिनेशन के तय समय में पूरा हल करने की कोशिश करें। Sample Paper सॉल्व करने के लिए टाइम मैनेजमेंट का ध्यान जरूर रखें ‌

मॉक टेस्ट और सैंपल पेपर आपको सफलता दिलाएगी

विशेष विशेषज्ञों का कहना है कि JEE NEET परीक्षा में आप शामिल होना चाहते हैं तो आप तैयारी मैं मॉक टेस्ट और सैंपल पेपर को कभी नजर अंदाज न करें।

परीक्षा में जाने से पहले सैंपल पेपर और मॉक टेस्ट द्वारा अपने क्षमता को चेक कर सकेंगे और उसके अनुसार बचे हुए दोनों को उपयोग करके आप अपने सिलेबस और कमजोर टॉपिक को सुधार सकेंगे। ‌

यह तरीका आपके लिए रामबाण साबित होगा और निश्चित तौर पर सफलता के करीब आप पहुंचकर जेईई और एनईईटी की परीक्षा को पहले ही प्रयास में पार कर लेंगे।

See also  google cloud merchandise for you

हर दिन पढ़ाई जरूरी है लेकिन हर समय नहीं

जैसे हम हर दिन सोते हैं उठाते हैं जागते हैं पढ़ते हैं उसी तरीके से मनोरंजन भी जरूरी है मन को फ्रेश रखने के लिए आप पढ़ाई के साथ-साथ मनोरंजन और सही खान-पान का भी ध्यान रखें जिससे आपका पढ़ाई में और मन लगेगा।

15 वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करने की प्रैक्टिस करें

अब हम आपको बता देते हैं जो एक सरल और सहज तरीका है कि किसी भी एग्जाम के पिछले साल के 15 वर्षों के प्रश्न को अगर आप सॉल्व करते हैं। कठिन सवालों के तेवर को भी समझ जाते हैं और उन्हें फिर से हल करने के लिए आप एक्टिव हो जाते हैं। इसका सीधा फायदा आपको मिलता और आप बेस्ट तैयारी कर पाते हैं।  

Conclusion

हमने इस आर्टिकल में आपको JEE NEET कंपटीशन को पहले प्रयास में किस तरह से क्रैक करें इसके बारे में कुछ सुझाव टिप्स के रूप में दिए हैं जो आपके लिए कारगर साबित होंगे

JEE NEET कंपटीशन की तैयारी के लिए सिलेबस, टाइम टेबल और रिवीजन के साथ सैंपल पेपर, मॉक टेस्ट बहुत जरूरी हो जाता है इन सब के बारे में विशेष तौर पर विस्तार से हमने आपको समझाया है।

हमने इस लेख के माध्यम से आपको यह टिप्स भी दिया कि न्यूमेरिकल सवालों को हल करने के लिए आपको कम से कम 80 से 90 प्रश्नों को प्रतिदिन सॉल्व करना चाहिए जिससे कि आपकी गणित के कैलकुलेशन करने की क्षमता बहुत तेजी से बढ़ेगी और JEE NEET परीक्षा में कम समय में बेहतर प्रदर्शन करके सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

इसी तरह के बेहतरीन टिप्स के लिए newgyan.com वेबसाइट पर विजिट करते रहें। इस तरह के  टिप्स और सरकारी जॉब की सूचना के साथ स्कॉलरशिप और जीके के प्रश्नों की जानकारी हासिल करते रहे। 

Leave a Comment