Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe latest: लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें?

लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें? Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe latest

लघुकथा लेखन उदाहरण सहित

कई बोर्ड की परीक्षाओं (board examination CBSE board) में लघुकथा (laghu Katha) लिखने को दिया जाता है। स्टेट बोर्ड (State board) की परीक्षा में भी लघुकथा पर प्रश्न (question of laghu katha) पूछता है। लघु कथा कैसे लिखा (How To write short story in hindi) जाए? आज हम laghu katha टॉपिक पर चर्चा करने जा रहे हैं।

छात्रों सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 9 के नए (CBSE board syllabus class 9 session 2022-23

छात्रों सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 9 के नए (CBSE board syllabus class 9 session 2022-23) सिलेबस 2023 के अनुसार हिंदी यह पाठ्यक्रम में प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा लिखने का प्रश्न इस बार आएगा।

CBSE class 10 B hindi syllabus. लघु कथा लेखन पूछा जाता है।

According to the new syllabus 2023 of class 9 of CBSE board students, this question of writing short story based on the point of departure in Hindi syllabus will come this time.

New Gyan Hindi study channel YouTube channel per CBSE related Hindi idea syllabus Class 10th and 9 many video class asking this year  2023 examination.

 new Gyan Hindi, channel YouTube growing channels. 

New Gyan Hindi channel class 10th Hindi CBSE board  class study material video lecture and class provide to you free. 

Hindi class 9-10 CBSE board new study channel

 सीबीएसई बोर्ड class 10th study playlist link below and click go to class 10 CBSE borad Hindi YouTube recorded Hindi class

लघु कथा किसे कहते हैं?What is short story in Hindi?


 
लघु कथा गद्य की वह नई विधा है, जिसमें कहानी को बहुत ही कम शब्दों में व्यक्त किया जाता है। जो अपनी प्रभावशाली संप्रेषण क्षमता के कारण पाठकों (reader) पर प्रभाव डालता है। 
लघु कथा (short story) शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है- पहले शब्द
‘लघु’ का अर्थ होता है, छोटा और दूसरे शब्द ‘कथा’ का अर्थ है- कहानी!
 वह कहानी जो छोटी होती है, उसे लघुकथा कहते हैं। लेकिन लघुकथा में पात्रों की संख्या, संवाद का विस्तार एवं कहानी का विस्तार अधिक नहीं होता है लघुकथा (laghu katha)  जीवन के किसी क्षण को प्रकट करने वाली और सोचने पर मजबूर कर देने वाली आधुनिक विधा है।

See also  Board Exam 2024 पढ़ाई के प्रेशर से बचने के टिप्स, सर्वे के अनुसार बच्चों के मेंटल हेल्थ पर पड़ रहा है पढ़ाई का बोझ

निम्नलिखित   प्रस्थान बिंदु के आधार पर 100 से 150 शब्दों में एक लघुकथा लिखिए

(Write a short story in 100 to 150 words based on the following departure point. )

 
(प्रस्थान बिंदु के आधार पर यहां पर एक लघु कथा सौ से डेढ़ सौ शब्दों के बीच लिखी गई है आप इसे देखकर समझ सकते हैं कि किसी लघुकथा को किस तरह से लिखा जा सकता है। )
⬇️⬇️⬇️⬇️⬇️⬇️⬇️⬇️⬇️
 

लघु कथा का शीर्षक – मदद

Title of laghu katha

  प्रतिभा आज स्कूल में बहुत उदास थी।  उसका मन पढ़ाई में नहीं लग रहा था। उससे  उसकी सहेली आराध्या ने कारण पूछा तो उसने बताया कि मुझसे एक बड़ी गलती हो गई है, ….


 मैंने अपने  माता-पिता का कहना नहीं माना…।  आराध्या ने कहा पूरी बात बताओ ? प्रतिभा ने बताया कि अर्धवार्षिक  परीक्षा होने वाली है लेकिन मैंने पढ़ाई पर ध्यान नहीं दिया।  माता-पिता ने कई बार मुझे समझाया था कि पढ़ाई पर ध्यान दो, पढ़ाई करो।  लेकिन मैंने पढ़ाई पर ध्यान नहीं दिया,  समय नष्ट किया।  इस कारण से मैंने अपने पाठ को ठीक ढंग से याद भी नहीं किया है।  मैं  अनुतीर्ण हो जाऊँगी। 

 आराध्य ने कहा, “तुम चिंता मत करो। कठिन परिश्रम करो। अच्छे अंको से पास हो जाओगी।  मैं तुम्हारी मदद करूँगी। मैं तुम्हें अपना नोट्स भी दे रही हूँ, 
तुम इसे लिखकर पूरा करो। मैं शाम को 5:00 बजे तुम्हारे  यहाँ आऊँगी और हम दोनों मिलकर एक घंटा पढ़ेंगे।” इतना सुनते ही प्रतिभा खुश हो गई।  

 आराध्या की मदद से  प्रतिभा ने अपना पाठ्यक्रम पूरा कर लिया। पढ़ने में मन लगाने लगी। यह परिवर्तन देखकर उसके माता-पिता बहुत खुश थे।

See also  CBSE मेरिट लिस्ट जारी! क्लास 10th, 12th रिजल्ट पर बड़ी अपडेट 2023 | Merit list : class 11th admission

 परीक्षा हुई तो प्रतिभा  और आराध्या  दोनों प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुईं। प्रतिभा ने आराध्या से कहा तुम मेरी सच्ची सहेली हो तुम्हारे ही वजह से मेरे अंदर साहस आया और मैंने परिश्रम किया।  आराध्या ने कहा कि एक अच्छा  दोस्त ही दूसरे दोस्त की मदद करता है। धन्यवाद देने की बात नहीं है, तुमने मेहनत किया और  तुम्हें सफलता मिली। प्रतिभा के माता-पिता भी बहुत खुश थे।

जन्मदिवस मनाया पेड़ों के साथ (Laghu Katha ka udharan)

 आज राजू जन्मदिवस है। सुबह से उसके मोबाइल फोन के व्हाट्सएप मैसेंजर, फेसबुक पर  शुभकामनाएं आ रहे हैं।

नजदीकी रिश्तेदारों का  शिष्टाचार फोन भी आया और उन्हें बधाइयाँ दी।  जन्मदिवस पर बधाई देने की  औपचारिकताओं को पाकर वह समझ चुका था कि आज के डिजिटल युग का इंसान केवल डिजिटल तरीके से ही अपनी भावनाएँ व्यक्त करते हैं।

इस बार उसने  अपना जन्मदिवस पेड़ों के साथ मनाया। पार्क में अकेले रहकर अनेक पेड़ों-पौधों से बातें कीं। माली से कहकर एक पौधारोपण उसने उसी दिन अपने हाथों से किया। उसने अपने कुछ मित्रों को भी बुलाया और पेड़-पौधों के साथ उसने अपना  जन्मदिवस मनाया। शाम को एक शानदार पार्टी भी दी।

laghu Katha lekhan udharan

छात्रों जब लघुकथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर लिखे तो उस लघुकथा का शीर्षक (Title of laghu katha) लिखेंगे, ऐसा प्रश्न पूछता है।

जैसी करनी वैसी भरनी इस कहावत के आधार पर एक लघु कथा 100 से 140 शब्दों में लिखिए-

ललितपुर गांव में एक साहूकार रहता था जो भोले-भाले किसानों की गरीबी का फायदा उठाता था। जब किसी किसान को पैसे की जरूरत होती थी तो वह महंगे ब्याज दर पर पैसे देता था। जब ब्याज इतना अधिक हो जाता और किसान ब्याज और मूल धन नहीं चुका पाता तो वह साहूकार किसान की जमीन अपने नाम करा लेता था। उस गांव के कई किसान अपनी जमीन गंवा चुके थे। साहूकार की पत्नी सज्जन और दयालु स्वभाव की थी। वह अपने पति को बार बार समझाती की बेईमानी और चालाकी से कमाया गया धन किसी काम का नहीं होता है।‌‌

See also  Land Subsidence Definition And Causes: भू धंसाव पर अनुच्छेद लेखन हिंदी

यह पाप है एक न एक दिन इस करनी का फल जरूर मिलेगा लेकिन साहूकार अपनी पत्नी के इन बातों का मजाक बना था और उस पर कोई ध्यान नहीं देता था। दूसरे शहर में किसी जरूरी काम के लिए साहूकार गया था। वहां रात में एक होटल में रुका। साहूकार के पास ढेर सारे पैसे थे। सुबह जब उठा तो उसके पैसे गायब थे। वह रोने चिल्लाने लगा क्योंकि उसके पास ₹1000000 था जो चोरी हो चुका था। होटल वालों ने साहूकार के एक भी बात नहीं सुनी कहा कि तुम पैसा लेकर नहीं आए झूठ मूठ का चोरी का बहाना बना रहे हो। होटल में चोर थोड़ी ना सकता है। अब साहूकार कैसे समझा था। थक हार कर बाप ने गांव लौटा जब अपनी पत्नी को सारी बात बताई तो पत्नी ने कहा देखा तुम दूसरों का पैसा हड़प तेथे आज तुम्हारा ही पैसा चोरी हो गया इसे कहते हैं जैसी करनी वैसी भरनी।

साहूकार को अब बात समझ में आ गई थी आप उसने चोरी और बेईमानी का धंधा छोड़ दिया था। अब वह किसानों की मदद करने लगा और किसानों की मजबूरी का फायदा नहीं उठाता था।

laghu Katha lekhan udharan 2023

हिंदी लघु कथा उदाहरण हिंदी लेखन लघुकथा उदाहरण। छात्र हमारे इस पेज पर आप रेगुलर विजिट करते रहें क्योंकि हम नए लघुकथा अपडेट करते रहते हैं जो आपके सीबीएसई बोर्ड हाई स्कूल परीक्षा के लिए और सीबीएसई बोर्ड क्लास नाइंथ के लिए उपयोगी है। आधार बिंदु के आधार पर किसी प्रश्न का लघुकथा कैसे लिखिए सरल ढंग से हम यहां बताते हैं। न्यू अपडेट लघुकथा के लिए आप इस पेज पर बने रहे।

अपठित गद्यांश एवं काव्यांश cbse hindi 10

20 नंबर का लेखन में इस बार सीबीएसई हिंदी क्लास 10 में 2023 के परीक्षा में प्रश्न पूछा जाएगा।

 अनुच्छेद लेखन hindi cbse class 10

Swavrit lekhan CBSE board class 10th| स्ववृत्त लेखन के उदाहरण biodata example in Hindi

 पत्र लेखन hindi cbse class 10

 विज्ञापन लेखन vigyapan lekhan hindi cbse class 10

 संदेश लेखन  Sandesh Lekhan hindi cbse class 10

पत्र लेखन: CBSE board Hindi letter writing क्लास 10th परीक्षा उपयोगी

 

लघुकथा कैसे लिखें? लघुकथा क्या होता है। इन सब पर 20 मिनट का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें। जो अलग-अलग बोर्ड की परीक्षा में पूछा जाता है।
⬇️⬇️⬇️

Multiple Choice Question Answer New Pattern पाठ सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ chapter बहुविकल्पी प्रश्न उत्साह और अट नहीं रही है, Hindi class 10 CBSE board

Cbse board class 10th hindi Multiple choice question answer hindi subjects 2020-21

सीबीएसई बोर्ड कक्षा 10 बहुविकल्पी प्रश्न हिंदी निराला जी की कविता पर आधारित

copy ritght 2023

5 thoughts on “Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe latest: लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें?”

Leave a Comment