NIOS Hindi 301 class 12th important questions answer / हिंदी प्रश्न उत्तर

NIOS हिंदी latest update important question answer for your study, class 12th NIOS students for study preparation examination. हिंदी की तैयारी करने वाले स्टूडेंट एनआईओएस कक्षा 12वीं के प्रमुख प्रश्नों के उत्तर परीक्षा की तैयारी करने के लिए यहां पर दिया जा रहा है।

latest update NIOS Hindi question answer

यहां पर हम लेटेस्ट टॉप 10 कविता से संबंधित प्रश्न उत्तर Nios हिंदी परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों को दे रहे हैं जो बहुत उपयोगी है।

Question कविता के भाव पक्ष और कला पक्ष को स्पष्ट कीजिए? /कविता में कला पक्ष की कौन-कौन से तत्व हैं स्पष्ट कीजिए?

Answer : कविता में कवि के चिंतन और विचार को भाव-पक्ष कहते हैं। भाव-पक्ष के अंतर्गत कवि कविता में अपने विचार के माध्यम से अपने संदेश और भावनाओं को प्रकट करता है तो इसको भाव पक्ष कहते हैं। ‌

जबकि कला-पक्ष के अंतर्गत कवि अपने भावों और विचारों को सुंदर तरीके से प्रस्तुत करता है, तो इसमें उपयोग होने वाले तत्व कला पक्ष कहलाते हैं। कला पक्ष के अंतर्गत कविता को अभिव्यक्त करने के लिए सुंदर और प्रभावशाली बनाने हेतु शिल्प का प्रयोग होता है। कविता में ये शिल्प अलंकार, छंद, बिंब और भाषा शैली है । जो स्वाभाविक रूप से विचारों व भावों को प्रकट करने में सक्षम होता है, ऐसे शिल्प के विभिन्न तत्वों को कला पक्ष कहा जाता है।

See also  New Model Question paper hindi class 9/ cbse board new pattern 2021

NIOS Hindi के अक्सर पूछे जाने वाले प्रमुख प्रश्न के सरल उत्तर

कविता में भाव पक्ष के अंतर्गत कौन-कौन से तत्व आते हैं स्पष्ट कीजिए?

उत्तर: कविता में भाव पक्ष विचार या संदेश के रूप में कवि द्वारा प्रकट किया जाता है। ‌ भाव पक्ष के अंतर्गत कवि का विचार होता है। भाव पक्ष के निम्नलिखित तत्व होते हैं-कथ्य, कल्पना, विचारदिष्ट और रस।

आचार्य रामचंद्र शुक्ल के अनुसार कविता की परिभाषा क्या है?

उत्तर: आचार्य रामचंद्र शुक्ल के अनुसार कविता की परिभाषा-  “हृदय की मुक्ति की साधना के लिए मनुष्य की वाणी जो शब्द – विधान करती आई है, उसे कविता कहते हैं।

आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी के अनुसार कविता की परिभाषा लिखिए।

NIOS Hindi क्वेश्चन आंसर

उत्तर: आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी के अनुसार “कविता का लोक प्रचलित अर्थ वह वाक्य है, जिसमें भावावेश हो, कल्पना हो, पदलालित्य हो तथा प्रयोजन की सीमा समाप्त हो चुकी हो ।”

सुनि मुनि बचन राम रुख पाई – पंक्ति का काव्य सौंदर्य बताइए।

उत्तर– रामचरितमानस की अयोध्या कांड से काव्य पंक्ति ली गई है। इस पंक्ति में अनुप्रास अलंकार का प्रयोग हुआ है। ‌ इस कारण से पंक्तियों में लय है।

मधुर वर्णों के प्रयोग के कारण नादात्मकता इसमें है। अवधी भाषा का सहज प्रयोग इस पंक्ति में नजर आ रहा है।

भाव-पक्ष पर विचार करें तो यह उस समय का चित्रण कर रहे हैं। राम को वनवास होने के कारण भरत स्वयं को दोषी मानते हैं, चित्रकूट की सभा में वह राम को वापस अयोध्या जाने के लिए और अपनी पीड़ा बताने के लिए बोलना चाहते हैं और भरत अपने अनुकूल राम और गुरु वशिष्ठ को पाते हैं।

कृष्ण काव्य धारा की दो विशेषताएं बताइए?

कृष्ण काव्य कव्य धारा की दो विशेषताएं निम्नलिखित है-

See also  National scholarship portal update scholarship information in Hindi 2023-24

1. कृष्ण के साकार रूप का वर्णन।

2. कृष्ण के प्रति भक्ति भावना।

3. वात्सल्य और श्रृंगार रस का अद्भुत प्रयोग।

कृष्ण मार्गी काव्यधारा के महत्वपूर्ण कवि सूरदास, रसखान, मीराबाई हैं। अधिकतर ब्रजभाषा, राजस्थानी और गुजराती भाषा में कृष्ण काव्य को लिखा गया।

वह तोड़ती पत्थर कविता का केंद्रीय भाव 35 शब्दों में लिखिए।

उत्तर : सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ की कविता ‘वह तोड़ती पत्थर’ श्रम(मेहनत) की उपयोगिता बताती है। स्त्री श्रमिक के जीवन संघर्ष के बारे में बताती है। अमीरों द्वारा श्रमिकों की उपेक्षा दर्शाती है। कठिन परिस्थितियों में जीवन जीने की सीख देती है।

उत्तर: परशुराम का उपदेश कविता में देश प्रेम की भावना नागरिकों में जागृत करने का आह्वान कवि रामधारी सिंह ‘दिनकर‘ द्वारा किया जा रहा है। परिस्थितियों के अनुसार संघर्ष करना आवश्यक है, सीख देते हुए कवि कहते हैं कि वैराग्य छोड़कर देश के लिए लड़ने का समय है। स्वतंत्र वह जाति होती है जो झुकना नहीं बल्कि स्वतंत्रता के लिए बलिदान देने को तैयार रहती है, इस कविता में साहस, संघर्ष और देश प्रेम का केंद्रीय भाव दिखाई देता है। NIOS Hindi paper questions

कहलाने एकत बसत, अहि, मयूर, मृग, बाघ।

जगत तपोवन सौ कियौ, दीरघ-दाघ, निदाघ।।

उत्तर: बिहारी जी की प्रसिद्ध काव्य पंक्ति है। ‌ इसका भाव है कि कठिन परिस्थितियों में दुश्मन भी अपना स्वभाव छोड़कर मित्र हो जाते हैं।

काव्य सौंदर्य – ब्रजभाषा में यह पंक्ति लिखी गई है। अनुप्रास अलंकार का अच्छा प्रयोग और सही शब्दों का इस्तेमाल करके तपोवन की स्थिति का चित्रांकन किया है। जंगल में गर्मी के कारण सांप, मोर, हिरन और बाघ व्याकुल हैं और एक ही स्थान पर पानी पी रहे हैं। दीरघ-दाघ, निदाघ शब्द संयोजन दोहे को कम शब्दों में अधिक विस्तार देता है। दोहा छंद का प्रयोग किया गया है। ‌ भाषा में लाक्षणिकता और प्राकृतिक चित्रण दिखाई देती है।

See also  Term 2| Manviya Karuna Ki Diyva Chamak MCQ Class 10 CBSE

एनआईओएस न्यू एक्स्ट्रा क्वेश्चन क्लास 12th हिंदी

पद्माकर के कवित्त में गोपी अपनी किस विवशता का वर्णन किया गया है?

उत्तर: पद्माकर के कवित्त में गोपियों के उस विवशता का वर्णन किया गया है, जब एक गोपी के आंख में उड़ता हुआ गुलाल चला जाता है और उसके साथ नंदलाल भी उनकी आंखों में बस जाते हैं। आंखों को पानी से धोकर गुलाल तो निकल जाता है, पर श्रीकृष्ण गोपी की आंखों में बस जाते हैं, इसी मजबूरी यानी विवशता को वह अपनी सहेलियों से कैसे कहे। बार-बार पानी से आंखों को धोती है लेकिन कृष्ण की छवि आंखों में बसी रहती है।

उत्तर- बिहारी रीतिकाल के श्रेष्ठ कवि हैं।इनके पठित दोहों में भक्ति की अतरंगता मिलती है। जहां मित्र भाव से भक्त अपने ईश्वर से मदद करने के लिए पुकारता है। ‌

इसके साथ ही ‘ कनक कनक तैं सौ गुनी, मादकता अधिकाय। वा खाएं बौरात है, या पाएं बौराय।।’

नीति के माध्यम से बुराइयों से उबरने की सीख भी देती है। ‘बतरस लालच लाल की मुरली धरि लुकाय’ श्रृंगार रस के संयोग पक्ष देखने को मिलता है। नायक नायिका के हंसी टिटौली से दैनिक गतिविधियों का चित्रण नजर आता है। कई दोहों में प्रकृति के प्रचंड रूप भी देखने को मिलता है।

NIOS Hindi MCQ Extra बहुविकल्पी प्रश्न

कविता में भाव पक्ष में निम्नलिखित में से तत्व शामिल नहीं होते हैं-

क- रस

ख- अलंकार

ग- कथ्य

घ- विचारदिष्ट

उत्तर – ख-अलंकार (यह तत्व या विशेषता कला पक्ष के अंतर्गत कविता में रखी जाती है।)

निम्नलिखित में से कविता की विशेषता नहीं है-

क. लयात्मकता

ख. विचार की जटिलताएं

ग. बिम्ब

घ. अलंकार

उत्तर: ख. विचार की जटिलताएं

nios Hindi 12th निम्नलिखित काव्य पंक्ति में कौन सा अलंकार है-

‘नीरज-नयन नेह जल बाढे़’

i. उत्प्रेक्षा और अनुप्रास

ii रूपक और उत्प्रेक्षा

iii अनुप्रास और रूपक

iv. यमक और शैलेश

उत्तर- यहां पर अनुप्रास और रूपक अलंकार है।

नवनीत का अर्थ क्या होता है?

उत्तर- मक्खन

उत्तर- इसमें अनुप्रास अलंकार। यह सूरदास की काव्य पंक्ति है।

Leave a Comment