अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस 5 June 2023 vishwa Paryavaran Diwas Par Slogan पर्यावरण पर स्लोगन| kavita, status, whatsup

0

 अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस 5 June 2022 vishwa Paryavaran Diwas Par Slogan पर्यावरण पर स्लोगन| kavita, status, whatsup

पर्यावारण दिवस 5 जून को मनाया आता है। इस धरती में हवा, पानी, मिट्टी को शुद्ध रखना जरूरी है। इसलिए खूब पेड़—पौधे लगाना चाहिए। नदियों तालाबों गंदा नहीं करना चाहिए। आइए 5 जून 2023 को विश्व पर्यावरणय के इस मौके पर हम लोग शपथ ने कि अपने धरती की रक्षा करेंगे। प्रदूषण से मुक्त हम अपनी धरती को स्वच्छ बनाएंगे।

पर्यायरण पर हम आपको पर्यावरण दिवस पर नारे, पर्यावरण पर नारे,, Environment Day Images और स्लोगन 2023 Paryavaran Day Slogan , Paryavaran Par Shayari , Paryavaran Diwas Par Slogan, Slogan For Paryavaran In Hindi प्रस्तुत कर रहे हैं।

World Environment Day 2023

पर्यावरण पर स्लोगन Environment  Slogan in hindi

whatsup massage image environmental Day download
ध्यान दें कि यहां दी गए पर्यावरण पर कविता, स्लोगन, शायरी, फोटो आदि सामग्री का प्रयोग किसी दूसरे वेबसाइट या प्रकाशक द्वारा किया जाना कॉपीराइट एक्ट का उल्लघंन है। यहां का कंटेंट कविता, कहानी, स्लोगन, शायरी को कॉपी करके किसी व्यवसाइट पर प्रकाशित न करें अन्यथा कानूनी अधिकारी का प्रयोग किया जाएगा।

whatsup massage image environmental Day download  status

1.

हर जागरुक इंसान की यही पहचान
पर्यावरण रक्षा करना उसका ईमान।
whatsup massage image environmental Day download

2.

हरे भरे पेड़ पौधे प्यारे
यह धरती के गहने न्यारे
बादलों को बरसाने वाले
गर्मी को दूर भगाने वाले
हरे भरे पेड़ पौधे हमारे।
whatsup massage image environmental Day download

3. slogan

 धरती को प्रदूषण के खतरे से निकाले
धरती के पुत्र आओ मिलकर हम यह काम सँभाले।

whatsup massage image environmental Day download

4.

आओ पर्यावरण बचाकर धरती की सेवा करें।

5. hindi slogan paryavarn diwas 2023

आओ बने जागरूक इंसान 
 हमारे देश की ये पहचान 
पर्यावरण को न हो कोई नुकसान।

6.

आओ पर्यावरण बचाकर धरती की सेवा करें।

7.

आसमान में चांद की यही पुकार
पर्यावरण सुरक्षा करो अपार।

8.

 हर शिक्षक का कर्तव्य है, ऐसा हो शिक्षण
हर बालक बचपन से सीखे, पर्यावरण संरक्षण।

9.

पर्यावरण बचाने के पहला कर्तव्य
अपनाएं सौर ऊर्जा और पवन ऊर्जा

10.

कोयले वाली बिजली का करो त्याग
छतों पर लगाओ सौर ऊर्जा
सूरज की शक्ति से पाओ प्रदूषण मुफ्त बिजली

11.

आओ पेड़ पौधे खेतों और तालाबों को संरक्षित करें।
हम मानव हैं पर्यावरण के साथ खुद को विकसित करें।

12.

आओ खुद को इस तरह से विकसित कर लें,
धरती और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाना छोड़ दें।

13.

अब विकास के नाम पर पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाना।
हर विकास के साथ अब ढेरों पौधे लगाना।

14.

पर्यावरण संरक्षण का सबसे बड़ा आधार, जल का संरक्षण हमारे जीवन का आधार।

15.

आज दो ये ऐलान हर जगह
एक पौधा लगाना अनिवार्य

16.

पढ़ाई में शामिल जरूर होना चाहिए
 सभी को पढ़ाई के दौरान
एक पौधा लगाना जरूर चाहिए।

17.

5 जून पर्यावरण दिवस
आओ पेड़ लगाकर बनाएं खास

18.

Paryavaran Diwas पर्यावरण new kavita in hindi

19.

चिड़िया का घोंसला पेड़ों पर होता
पेड़ों की छाँव में जीवन पलता
पेड़ पौधे और हवाएँ
इनसे ही जीवन चलता

20

अब धरती का मानव जाग रहा है।
पर्यावरण को बचा रहा है।।
यह मुहिम नहीं रुकनी चाहिए।
 पेड़ पौधे और शुद्ध हवा चाहिए।।
आज की नव पीढ़ी ने यह ठाना है
हर कीमत में पर्यावरण बचाना है।

पर्यावरण पर कविता

21.

गाँव मेरा घर पर्यावरण पर कविता
मेरे घर का यही पता है दोस्त
 जब शहर खत्म हो शुरू हो जाए हरे भरे पेड़ों की श्रृंखला
तो वहीं रुक जाना।
मैं बन हवा ठंडी-ठंडी चलूँगा तुम्हारे साथ।
गाँव की पगडंडियों से तुम्हें ले जाऊँगा
अमिया के बाग से होते हुए तुम
बुलबुल कोयल के संगीत सुनते
दूर तक फैली खेतों के उस पार
जब तुम्हारी निगाहें पड़ेगी
नजर आएगा मेरा गाँव
बस पूछ लेना मेरा नाम
कोई न कोई पहुँचा देगा
मेरे घर।

22.

पीपल 
दोस्त जब तुम्हारा मन हो बेचैन
 पीपल के पेड़ के तले बिताए
याद कर लेना
  हमारे साथ बताए वे पल
मैं तो यहाँ हमेशा रहूँगा
तुम पढ़ लिख कर चले जाओगे दूसरे देश
मैं पेड़ हूं पीपल का
तुम्हें याद करता रहूँगा हर पल।

23.

हरियाली
जब हवाएं चलती है
 बारिश होती है
जब फूल खिलते हैं
भौरें खिलखिलाते हैं
 हरी हरी डाली हिलती है
हवाओं में खुशबू बहती है
 चारो ओर हरियाली दिखता है
हर कोई देख खुश होता है।

पर्यावरण पर शायरी

24.

हरियाली का साथ नहीं छोड़ना, यह तुम्हारे जीवन का सबसे बड़ा लक्ष्य है
पेड़ पौधे दोस्त होते हैं और सच्चे साथी मन के
यह भी सच है।
—–
पेड़ पानी जंगल पहाड़ और इस शेर की दहाड़
यह है धरती के जंगल की बात,
Leave A Reply

Your email address will not be published.