CBSE Class 10 Hindi B अनुच्छेद लेखन उदाहरण, latest

anuchchhed lekhan paragraph writing: सभी बोर्ड परीक्षाओं में और सीबीएसई बोर्ड क्लास 10TH CBSE Class 10 Hindi B और Hindi A पाठ्यक्रम मे अनुच्छेद लेखन पूछा जाता है।

कम शब्दों में अपनी बातों को व्यक्त करना अनुच्छेद लेखन में कठिन है लेकिन निरंतर अभ्यास से आप अनुच्छेद लेखन किसी भी विषय पर आसानी से लिख सकते हैं।

Hindi paragraph writing


अनुच्छेद लेखन उदाहरण में अपने विचारों और भावों को जब आप एक ही पैराग्राफ में यानी अनुच्छेद में लिखते हैं तो उसे अनुच्छेद लेखन कहा जाता है। परीक्षा में आधार बिंदु या विषय के अनुसार अनुच्छेद लेखन (Hindi paragraph writing) पर प्रश्न आता है। इसी आधार पर आपको अनुच्छेद लिखना होता है। परीक्षा में शब्द सीमा के आधार पर और टॉपिक के आधार पर सटीक अनुच्छेद लिखने वाले परीक्षार्थी को पूरे अंक मिलते हैं।

paragraph writing अनुच्छेद लिखते समय सावधानी

जब भी आप अनुच्छेद (Hindi paragraph writing latest) लिख रहे हैं तो अनुच्छेद सटीक और टॉपिक पर ही लिखे इधर उधर की बातें लिखने से अनुच्छेद की शब्द सीमा अधिक हो जाती है और अनुच्छेद का विषय भटक जाता है।

अनुच्छेद लिखते समय वर्तनी का दोष और व्याकरण का दोष भी नहीं होना चाहिए। अनुच्छेद लेखन के समय यह भी ध्यान रखना चाहिए कि टॉपिक से अलग ना लिखें। इन सब बातों का ध्यान रखने से अनुच्छेद से बहुत ही अच्छा लिखा जाता है और आपको बेहतर अंक मिलते हैं।

Hindi paragraph writing latest exampleसभी प्रतियोगी परीक्षा के लिए उपयोगी
अनुच्छेद लेखन लेटेस्ट उदाहरणबोर्ड परीक्षा के लिए भी उपयोगी
अनुच्छेद लेखन

अनुच्छेद लेखन के उदाहरण

पैराग्राफ राइटिंग अनुच्छेद लेखन CBSE board Hindi syllabus पाठ्यक्रम और दूसरे बोर्ड पाठ्यक्रम और competitive examination लिए यहां पर कुछ टॉपिक दिए जा रहे हैं, यह आपके लिए उपयोगी से कम से कम शब्दों में लिखा गया है। परीक्षा में कम शब्दों में ही पूछा जाता है लगभग 100 से 120 शब्दों में लिखा जाता है।

See also  Mario Molina: ग्लोबल वार्मिंग के प्रभाव का पता लगाने वाले‌ रसायन विज्ञानिक पर पैराग्राफ राइटिंग

संयुक्त परिवार की आवश्यकता क्यों

आधुनिक युग में एकल परिवार का चलन बढ़ा है लेकिन आज के समय में संयुक्त परिवार की आवश्यकता भी बनी हुई है। संयुक्त परिवार में बुजुर्ग एक एकाकीपन का शिकार नहीं होते हैं जबकि एकल परिवार में व्यक्तिवादी सोच होती है जिस कारण से इंसान मनोवैज्ञानिक रूप से कमजोर हो जाता है। एकल परिवार होने के कई कारण है जिसमें सबसे बड़ा कारण शहरीकरण और बढ़ती हुई महंगाई है। अपनी महत्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए लोग एकल परिवार में रहना सही समझते जबकि उनका यह निर्णय सही नहीं होता है क्योंकि एकल परिवार के बच्चे संयुक्त परिवार की अपेक्षा सामाजिक नहीं हो पाते हैं। इसके अलावा माता-पिता अपने बच्चों का पालन पोषण करने में कठिनाई का अनुभव करते हैं क्योंकि एकल परिवार संयुक्त परिवार की तरह नहीं होता है। जहां पर परिवार के अन्य सदस्य जैसे दादी, दादा, चाचा, चाची आदि उनका सहयोग कर सके। इससे यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि हर युग में संयुक्त परिवार की अपनी महत्ता रही है आज आधुनिक युग में भी संयुक्त परिवार महत्वपूर्ण है। शब्द सीमा 172 शब्द।

ग्लोबल वार्मिंग पर अनुच्छेद लेखन

धरती के औसत तापमान में लगातार वृद्धि होने के कारण ग्लोबल वार्मिंग यानी कि वैश्विक तापमान की वृद्धि होने की समस्या से विज्ञानिक चिंतित है। विकसित देशों के द्वारा आप प्रगति के नाम पर अंधाधुन कार्बन उत्सर्जन के कारण ग्लोबल वार्मिंग की समस्या पैदा हो रही है। इसके प्रभाव के कारण बड़े-बड़े ग्लेशियर वातावरण के गर्म होने के कारण पिघल रहे हैं जिस कारण से समुद्रों का जलस्तर बढ़ रहा है। वही नदियां भी सूख रही है क्योंकि जो नदिया ग्लेशियर के कारण बहती है। हिमनदी (ग्लेशियर) भी धीरे-धीरे गर् रहा है, इस वजह से नदियों का अस्तित्व भी संकट में है। ग्लोबल वार्मिंग के कारण पेड़ों की कटाई शहरीकरण और कार्बन उत्सर्जन है। इसका समाधान है कि हम पारंपरिक ऊर्जा के प्रयोग की जगह सौर ऊर्जा और जल ऊर्जा का प्रयोग करें जिससे कि कार्बन उत्सर्जन की बढ़ती मात्रा पर लगाम लगाया जा सके। पेड़ पौधे लगाकर वनों की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए। बड़े-बड़े विकसित देशों के द्वारा कार्बन उत्सर्जन पर उन पर जुर्माना लगाने का प्रावधान भी विश्व समुदाय की ओर से शुरू कर देना चाहिए। विकासशील देशों को कार्बन उत्सर्जन में थोड़ी छूट देनी चाहिए और वहां पर सौर ऊर्जा और बैटरी से चलित ऊर्जा वाले वाहनों और मशीनों का इस्तेमाल करने की तकनीक को विकसित करने की पहल विश्व समुदाय की ओर से होना चाहिए। कार्बन उत्सर्जन और प्रदूषण पर जितना नियंत्रण कर सकते हैं उतना नियंत्रण करके हम अपने धरती को ग्लोबल वार्मिंग के दुष्प्रभाव से बचा सकते हैं, आओ इसकी पहल हम लोग शुरू करें। (अनुच्छेद शब्द सीमा 251)

See also  UP Bord math Tips 2023 : गणित परीक्षा की तैयारी के टिप्स | pdf model papers

latest anuchchhed lekhan CBSE board class 10th Hindi B syllabus, परीक्षा के लिए उपयोगी होने वाले इस पेज पर बने रहें परीक्षा के लिए उपयोगी ढेर सारे अनुच्छेद लेखन का उदाहरण यहां हम प्रस्तुत करने जा रहे हैं। पैराग्राफ राइटिंग हिंदी लेटेस्ट अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

Leave a Comment