Education

KVS admission fees 2023 : केंद्रीय विद्यालय में एडमिशन ₹2000 से कम फीस

Written by Abhishek pandey

KVS admission fees शुरू हो चुका है। केंद्रीय विद्यालय संगठन के स्कूलों में एडमिशन कराकर आप कम fees में अपने बच्चे को पढ़ा सकते हैं। रुपए 2000 से भी कम महीने फीस लगता और पढ़ाई की क्वालिटी भी बहुत बेहतर होती है।
अंग्रेजी माध्यम स्कूलों (private English medium School CBSE) में इन दिनों अधिक फीस (fees) के कारण माता-पिता (parents) अपने बच्चे को पढ़ा नहीं पाते हैं। इसके अलावा एक कारण यह भी है कि हर स्कूल की शिक्षा व्यवस्था में वहां गुणवत्ता नहीं है और फीस भी अधिक है ऐसे में अपने बच्चे को कहां पड़ा है यह प्रश्न हर माता-पिता का है।
इस लेख के माध्यम से education system, fees, kendriya vidyalay admission, English medium School, CBSE board इन सभी पर आपसे बात करेंगे और आपको बताएंगे कि इस तरह से कम पैसे में बेहतरीन शिक्षा प्रदान कर सकते हो शिक्षा की क्या स्तर है कैसे पढ़ाई का स्तर (increase the quality of study) बढ़ाया जाए इन सभी ढेरों बातों को इस पोस्ट में समेटने वाले हैं। (talk to about the KVS admission and fees structure quality education)

KVS Fees केंद्रीय विद्यालय

बढ़ती महंगाई के कारण प्राइवेट स्कूलों में सत्र 2023-24 से फीस बढ़ा दी गई है। अच्छी एजुकेशन के लिए अच्छा भुगतान भी करना होगा तभी सही शिक्षा (quality education) मिल सकती है। लेकिन हर माता-पिता अपने बच्चे को महंगे अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में नहीं पढ़ा सकते क्योंकि वहां पर फीस और एडमिशन चार्ज बहुत अधिक होता है। ऐसे में आपको केंद्रीय विद्यालय संगठन (kendriya vidyalay sangathan)के स्कूलों में अपने बच्चे को एडमिशन कराने का प्रयास करना चाहिए। यदि आपका बच्चा 5 से 7 साल की उम्र के बीच में है तो कक्षा एक में केंद्रीय विद्यालय संगठन के स्कूलों में एडमिशन हो सकता है।

See also  नई एजुकेशन पॉलिसी में दसवीं क्लास बोर्ड है या नहीं है

KVS ADMISSION 2023 : class 1 में एडमिशन शुरू

KVS admission fees, book

केंद्रीय विद्यालय संगठन की स्थापना केंद्रीय सरकारी कर्मचारी यह बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाने के उद्देश्य की गई है। लगभग हर जिले में केंद्रीय विद्यालय संगठन यानी केवीएस की स्कूल है जो कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई हिंदी और अंग्रेजी दोनों माध्यम में कराते हैं। केंद्रीय विद्यालय संगठन के स्कूल सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) की पढ़ाई होती है। कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक एनसीईआरटी की पुस्तकों से पढ़ाई होती है और इन पुस्तकों की कीमत बहुत ही कम होती है ऐसे में केवीएस को पढ़ाने से आपको महंगी प्राइवेट पुस्तक (text book) खरीदने की आवश्यकता नहीं होती है।

केवीएस book, बचत

sarkari NCERT class 1 text book मात्र 1000 से डेढ़ हजार रुपए में मिल जाता है। जबकि प्राइवेट स्कूल में चलने वाली प्राइवेट पुस्तके 4000 Rs. से Rs. 5000 तक में आती है। केंद्रीय विद्यालय संगठन की स्कूल में एनसीईआरटी की सरकारी किताब चलती है इसलिए इन किताबों का मूल्य बहुत ही उचित होता है।

यदि आप प्राइवेट स्कूल में एडमिशन कराते हैं उसकी तुलना में कक्षा एक में केवीएस में एडमिशन कराने से ₹3000 किताबों के बच जाते हैं।

यदि आप नई किताबें नहीं खरीद सकते हैं तो किसी पुरानी किताबें भी ले सकते हैं इसके लिए आपको स्कूल के बच्चे से संपर्क करना चाहिए जो अपनी पुरानी कक्षाओं की पुस्तकें आपको खुशी से दे सके। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अमेरिका जैसे शहरों में भी पुरानी पुस्तकों का अदला-बदली होती है। केवीएस में चलने वाली एनसीआरटी बुक हर साल नहीं बदलती है इसलिए अगली कक्षा की पुस्तक आप पुरानी भी ले सकते हैं और उससे भी पढ़ाई कर सकते हैं।

एडमिशन चार्ज admission charge KVS admission fees

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि केंद्रीय विद्यालय संगठन द्वारा संचालित केवीएस स्कूलों में किसी भी तरह का एडमिशन फीस (प्रवेश शुल्क) नहीं लिया जाता है।

See also  न्यू एजुकेशन पॉलिसी 2020 में कई बदलाव, बदलेगी भारत की तस्वीर

प्राइवेट स्कूलों में एडमिशन फीस के नाम पर कई तरह के अतिरिक्त चार्ज वसूल लेते हैं। हैं। यह धनराशि अलग-अलग स्कूलों के अनुसार 5000 तो कहीं ₹50000 तक हो सकती है। जिसे अंग्रेजी में admission charge for new admission कहा जाता है लेकिन सरकार के नियमानुसार कोई भी विद्यालय एडमिशन चार्ज नहीं ले सकता है। लेकिन कुछ private school विकास शुल्क या किसी और बहाने से यह पैसा वसूल लेते हैं।

एडमिशन ₹2000 से कम फीस

इस महंगाई के जमाने में केंद्रीय विद्यालय संगठन (kendriya vidyalay sangathan) की स्कूलों में पढ़ाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि यहां फीस बहुत कम लगती है। कक्षा 1 में एडमिशन कराते हैं तो लगभग 2000 से कम फीस 1 महीने की लगती है। इसके अलावा साल भर किसी तरह का कोई चार्ज अतिरिक्त नहीं देना पड़ता है जबकि इसकी तुलना में प्राइवेट स्कूलों में बहुत अधिक Fees लिए जाते हैं- जैसे परीक्षा शुल्क (examination fees) , विकास शुल्क (development fees), स्पोर्ट्स शुल्क (sport fees) इत्यादि।

केंद्रीय स्कूल kvs

विकिपीडिया की जानकारी के अनुसार देश भर में 1252 केंद्रीय विद्यालय शिक्षा प्रदान कर रहे हैं।

कुल 1435562 विद्यार्थी यहां से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं और यह बता दें कि भारत के केवीएस स्कूल सीबीएसई बोर्ड द्वारा संचालित होते हैं।

केवीएस स्कूलों में हिंदी और अंग्रेजी दोनों माध्यम में पढ़ाई होता है इसके अलावा कुछ केवीएस स्कूलों में क्षेत्रीय भाषा में भी पढ़ाई होती है।

fees structure of KVS School के बारे में बता दे कि बहुत मामूली शुल्क लिया जाता है जब किसके तुलना में प्राइवेट कॉलेज में साल भर में लाखों रुपए फीस के रूप में ले लिया जाता है। बात करें केंद्रीय विद्यालय की फीस स्ट्रक्चर की 3 महीने में फीस जमा करना होता है और यह भी शुल्क ₹2000 प्रति महीने से भी काम आता है। साल भर किसी भी तरीके की अन्य शुल्क नहीं लिया जाता है। जगदीश की तुलना में प्राइवेट महंगे स्कूलों में कई तरह के अलग-अलग शुल्क वसूल किया जाता है।

See also  कन्यादान कविता पर क्लास 10 हिंदी MCQ QUESTION CBSE 2024

यहां पर केवीएस संगठन भर्ती प्रक्रिया द्वारा शिक्षकों का चयन किया जाता है और वह केंद्रीय विद्यालय के स्कूलों में पढ़ाते हैं। नई शिक्षा नीति के अनुसार केंद्रीय विद्यालय संगठन में पढ़ाने वाली टीचर की योग्यता और क्वालिटी निर्धारित की जाती है।

जबकि इसकी तुलना में प्राइवेट स्कूलों में इन सब को नजरअंदाज कर दिया जाता है। हालांकि सरकार प्राइवेट स्कूलों में ट्रेंड शिक्षकों और उनसे क्वालिफिकेशन को लेकर समय-समय पर डाटा को अपडेट कराती रहती है।

केंद्रीय विद्यालय संगठन में ट्रेन की टीचरों द्वारा बच्चों को शिक्षा दी जाती है। इन की क्वालिटी शिक्षा पर बहुत ध्यान दिया जाता है।

फीस स्ट्रक्चर ऑफ केवीएस fees structure of KVS

केवीएस में एडमिशन कराने से पहले Fee Structure की जानकारी निम्नलिखित- सलाह दी जाती है कि इसी तरह का फेरबदल होने की स्थिति में official website को चेक जरूर करें।

Re admission feesonly 100 Rs.
Tuition fees of KVS
class 9 to 10
Rs 200
class 11 and 12th Humanities and commerce students Tution fees300 Rs.
11 and 12th science stream students Tution fees 400 Rs.
class 1 to 3 Tution fees100 Rs.
Kendriya Vidyalaya Fees

EWS कमजोर तबके स्टूडेंट का tution fees नहीं लगता है।

FAQ

KVS Admission में क्या एमपी कोटा खत्म कर दिया गया है?

अब आपको बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा केंद्रीय विद्यालय संगठन kvs में कक्षा 1 से 12 तक के के एडमिशन में एमपी कोटा (member of parliament Qota) को खत्म कर दिया गया है। इस कारण से 40 हजार से ज्यादा सीट रिजर्व हो गई है। जिसका फायदा एडमिशन लेने वाले छात्रों को मिलेगा। केवीएस में कक्षा 1 मैं एडमिशन लाटरी पद्धति से होता है।

देशभर में Kvs स्कूलों की संख्या कितनी है?


केंद्रीय विद्यालय संगठन की स्कूलों की कुल संख्या 1252 है। इस बार 2023-24 के एडमिशन के लिए कुल 1 लाख विद्यार्थियों का एडमिशन पहली कक्षा में होगा। केंद्रीय विद्यालय संगठन ऑफिशल वेबसाइट
kvsonlineadmission.kvs.gov.in नेट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

About the author

Abhishek pandey

Author Abhishek Pandey, (Journalist and educator) 15 year experience in writing field.
newgyan.com Blog include Career, Education, technology Hindi- English language, writing tips, new knowledge information.

Leave a Comment

हिंदी में बेस्ट करियर ऑप्शन, टिप्स CBSE Board Exam tips 2024 एग्जाम की तैयारी कैसे करें, मिलेगा 99% अंक