Cbse board class 10th hindi Multiple choice question answer hindi subjects 2020-21 सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Cbse board class 10th hindi Multiple choice question answer hindi subjects 2020-21

 CBSE board class 10th hindi objective question answer hindi subjects 2020-21

हाईस्कूल हिंदी ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन एंड आंसर


सीबीएसई बोर्ड  क्लास 10th हिंदी ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर hindi subjects 2020-21


 इस बार की परीक्षा 2020-21 में CBSE बोर्ड में ऑब्जेक्टिव यानी मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन पूछे जाएंगे। हिंदी के क्वेश्चन Paper में  हाईस्कूल में चलने वाली CBSE बोर्ड (CBSE BOARD) की पुस्तक क्षितिज भाग 2 के काव्य और गद्य खंड से बहुविकल्पी प्रश्न (multiple choice) भी पूछे जाएंगे।  इस बार कुछ पाठ रिड्यूस किए गए हैं। आज श्रृंखला में हम आपको  हिन्दी का पाठ्यक्रम में बनने वाले ऑब्जेक्टिव टाइप यानी मल्टीपल चॉइस टाइप के प्रश्नों की एक सीरीज दे रहे हैं जो study में बहुत काम आएगा। 


 CBSE Board 2020 Hindi multiple choice question answer  

 नई शिक्षा नीति  new education policy 2020 के अगले चरण को लागू करने के इस प्रक्रिया में इस बार सीबीएसई बोर्ड में हाईस्कूल 10 और इंटर 12 की परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप (objective type questions) की संख्या बढ़ा दी है। छात्रों मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन पूछे जाएंगे और इसके साथ लिखने वाले भी प्रश्न भी पूछे जाएंगे।

 क्योंकि परीक्षा पैटर्न (Examination Pattern) में ऑब्जेक्टिव टाइप (Objective Type) यानी कि मल्टीपल चॉइस (Multiple Choice) के क्वेश्चन आंसर पहली बार पूछा जा रहा है और इस पर अभी तक कोई खास स्टडी मैटेरियल (study material in Hindi dea multiple choice questions answer for examination 2020-21, CBSE board) आपके पास नहीं होगा। इसलिए इस बार जो-जो पाठ क्षितिज भाग 2 (Kshitij part 2) में पूछा जाएगा उन पाठ के  बहुविकल्पी प्रश्न (objective type question answer series) उत्तर इस सीरीज में यहां पर देने जा रहे हैं। यह बहुविकल्पी प्रश्न आपके प्रैक्टिस के लिए बहुत जरूरी है।

  एक तरह से परीक्षा पैटर्न  (examination pattern 2021 CBSE board for high school Hindi) में किस तरह का मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन  (how to type to multiple choice question) पूछा जाएगा इस बारे में भी आपको जानकारी हो जाएगी और फिर आप अपनी पढ़ाई में इस बात को ध्यान रखेंगे कि मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन किस तरह के बन सकते हैं। 


लेकिन आपको याद भी ध्यान रखना है कि क्षितिज भाग 2 (kshitij part 2 books)  के डिस्क्रिप्टिव आने वाले प्रश्न-उत्तर भी आएँगे और उसके लिए आपके पास स्टडी मैटेरियल काफी कुछ होगा लेकिन  इस बार 2020-21 में सीबीएसई में नए परीक्षा पैटर्न में बदलाव होने के कारण सभी सब्जेक्ट में मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन आंसर भी पूछे जाएंगे (also asking multiple choice question paper in High School CBSE board examination 2020-21) इसलिए इस पर मैं आपको हिंदी में मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन की सीरीज देने जा रहे हैं। 


(read very carefully multiple choice questions answer)

 इस क्वेश्चन को ध्यान से पढ़े और इसके संभावित उत्तर (to try to give right answer of this multiple choice questions) को देने का प्रयास करें इन सभी का उत्तर नीचे दिया हुआ है। उन से मिलान करें और फिर देखें कि आप की तैयारी किस तरह की हुई है।

 multiple choice questions gaining a more marks for your examination

छात्रों मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन का आंसर आप परीक्षा में  सही सही कर लेते हैं तो  इस बार हिंदी में आपके अच्छे नंबर आएंगे। इसलिए इस पूरे प्रश्नों को आप अच्छे से पढ़ें।

 (Kshitij bhag 2 the CBSE Board High School main book Kavya and gadhya Khand asking multiple choice question and answer after reducing lessons reason of Corona Sankraman)

 यहां पर क्षितिज भाग 2 के काव्य और  गद्य पाठ के उन्हीं  पाठ यानी चैप्टर से मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन आंसर यहां पर बनाया गया है जो इस बार 2020 में सिलेबस रिड्यूस होने के बाद आएंगे।


 CBSE Board High School Hindi syllabus 2020-21 change examination pattern more asking multiple choice questions. 


 multiple choice questions and answers CBSE board  10 class Hindi A  syllabus


  सीबीएसई बोर्ड कक्षा 10 हिंदी का पाठ्यक्रम 2020- 2021 परीक्षा पैटर्न पर आधारित बहुविकल्पी प्रश्न यहाँ पर दिए जा रहे हैं-

 निम्नलिखित प्रश्नों के सही विकल्प चुनकर लिखिए-


1. परशुराम के क्रोध को शांत करने के लिए श्रीराम जी ने उनसे क्या कहा?

I. धनुष तोड़ने वाला आपका कोई सेवक होगा।

II. धनुष तोड़ने वाला कोई राजकुमार है।

III.यह धनुष अपने आप ही टूट गया।

IV. इनमें से कोई भी उत्तर सही नहीं है।


2. "वीर तुम बढ़े चलो, धीर तुम बढ़े चलो सामने पहाड़ हो सिंह की दहाड़ हो।"

 काव्य पंक्तियों में कौन-सा रस है-

  1.  अद्भुत रस

  2.  वीर रस

  3. भयानक रस

  4. करुण रस


3.  रसों का राजा/  रसराज किसे कहते हैं-

  1.  शृंगार रस

  2. वीर रस

  3.  हास्य रस

  4. करुण रस


4.  शांत रस का स्थाई भाव बताइए-

  1. रति

  2.  निर्वेद

  3. शोक

  4.   विस्मय


5. रस और उसके स्थायी भाव का कौन-सा जोड़ा गलत है-

  1.  वीभत्स-  जुगुप्सा

  2. रौद्र- क्रोध

  3. अद्भुत- विस्मय

  4.   श्रृंगार- निर्वेद


6.  श्रृंगार रस के दो भेद कौन-कौन से हैं-

  1.  आयोग, संजोग

  2. संयोग, वियोग

  3.  रति -लज्जा

  4.  इनमें से कोई नहीं


7.  "निसिदिन बरसत नैन हमारे सदा रहति पावस ऋतु हम पै,  जब से श्याम सिधारे।।"

 इन पंक्तियों में कौन-सा रस है-

  1. शांत रस

  2.  करुण रस

  3. भक्ति रस

  4.  शृंगार रस


8.  'अपरस' शब्द का क्या अर्थ है-

  1. अछूता/नीरस

  2.  व्याकुल

  3.  जीवन

  4.  प्रेम


9.   उद्धव के योग का ज्ञान गोपिकाओं के किसके समान लगता है-

  1.  कड़वी ककड़ी की तरह

  2.  हारिल की लकड़ी की तरह

  3.  कमल के पत्ते की तरह

  4.   चकरी की तरह


10.  गोपियों के अनुसार 'गुरु ग्रंथ' किसने पढ़ लिया-

  1.  उद्धव ने

  2. श्रीकृष्ण ने

  3.  गोपियों ने

  4. इनमें से कोई नहीं


11.  गोपियाँ योग की शिक्षा कैसे लोगों को  देने की बात कही-

  1. जिनका मन चकरी की तरह भटकता है।

  2.  जिन्होंने शिक्षा नहीं ग्रहण किया।

  3. जिसे कोई ज्ञान नहीं है।

  4.  इनमें से कोई नहीं


12.  'भ्रमरगीत' की इनमें से कौन-सी विशेषता/ विशेषताएँ सही है-

  1.   इसमें गोपियों की वाक् चतुरता है।

  2. भ्रमरगीत श्रृंगार रस के वियोग रस का  अनुपम  उदाहरण है

  3.  भ्रमरगीत में व्यंग्य कटाक्ष उलाहना निराशा जैसे मनोभावों को प्रकट किया गया है

  4.   उपर्युक्त सभी।


13.  सूरसागर, सूरसारावली, साहित्य लहरी-  ये तीनों प्रसिद्ध रचनाएँ किस कवि की हैं-

  1.  तुलसीदास

  2. कबीर

  3.  सूरदास

  4.  मलिक मोहम्मद जायसी


14.  सूरदास की अधिकांश कृतियाँ किस भाषा/बोली में लिखी गई-

  1. अवधि

  2.  मैथिली

  3.  ब्रजभाषा

  4. हिंदी 


15. गोपियों ने राजनीति का प्रकांड विद्वान/पंडित किसको कहा-

  1.  उद्धव

  2. श्रीकृष्ण

  3.   बलदाऊ

  4.  इनमें से कोई नहीं


16.  'राम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद' प्रकरण   तुलसीदास  के किस ग्रंथ का अंश है-

  1.  कवितावली

  2. दोहावली

  3.  विनय पत्रिका

  4. रामचरितमानस


17. 'राम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद' काव्य पाठ तुलसीदास के ग्रंथ रामचरितमानस के किस कांड से लिया गया है।  (अवतरित है।)

  1.  बालकांड

  2. किष्किंधाकांड

  3.  लंकाकांड

  4. अयोध्याकांड


18.   धनुष्य के टूट जाने पर श्रीराम जी ने क्रोधित परशुराम को शांत करने के लिए क्या कहा-

  1.  इस धनुष को तोड़ने वाला आपका कोई दास होगा।

  2.  धनुष छूटे ही टूट गया

  3. धनुष पुराना था

  4.   उपरोक्त सभी विकल्प सही हैं।


19.    परशुराम जी के स्वभाव की विशेषताएँ निम्नलिखित में से कौन सही है-

  1.   अत्यंत क्रोधी स्वभाव 

  2.  शिव भक्त

  3.  सहस्त्रबाहु को पराजित किया।

  4. उपरोक्त सभी विकल्प सही है।


20.  'कुम्हड़बतियाँ' शब्द का अर्थ क्या है?

  1.  कुम्हडे़ कच्चा फल

  2.  तरबूज

  3. लौकी

  4.  इनमें से कोई नहीं।


उत्तर

  1. I

  2. II

  3. I

  4. II

  5. IV

  6. II

  7. IV  शृंगार रस के वियोग का उदाहरण है।

  8. I

  9. I

  10. III

  11. I

  12. IV

  13. III

  14. III

  15. II

  16. IV

  17. I

  18. I

  19. IV

  20. I



 हिंदी सीबीएसई बोर्ड सिलेबस के मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन आंसर के लिए यहां क्लिक करें

Multiple Choice Question Answer New Pattern पाठ सूर्यकांत त्रिपाठी 'निराला' chapter बहुविकल्पी प्रश्न उत्साह और अट नहीं रही है, Hindi class 10 CBSE board


 new Gyan copyright 2020-21

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लघु-कथा' CBSE BOARD CLASS 9 NEW SYLLABUS LAGHU KATHS LEKHAN

'लघु-कथा' CBSE BOARD CLASS 9 NEW SYLLABUS LAGHU KATHA LEKHAN  लघु और कथा शब्द से मिलकर बना हुआ है। लघु का अर्थ होता है- छोटा और कथा का अर्थ होता है-कहानी। इस तरह लघुकथा का अर्थ हुआ कि 'छोटी कहानी'। छात्रों हिंदी साहित्य को दो भागों में बाँटा गया है, पहला गद्य साहित्य और दूसरा काव्य साहित्य।  गद्य साहित्य के अंतर्गत कहानी, नाटक, उपन्यास, जीवनी, आत्मकथा विधाएँ आती हैं। इसी में लघु-कथा विधा भी 'गद्य साहित्य' का एक हिस्सा है। कहानी उपन्यास के बाद यह विधा सर्वाधिक प्रचलित भी है। आधुनिक समय में इंसानों के पास समय का अभाव होने लगा और वे कम समय में साहित्य पढ़ना चाहते थे तो  'लघु-कथा' का जन्म हुआ। लघु कथा की परंपरा हमारे संस्कृति में 'पंचतंत्र' और 'हितोपदेश' की छोटी कहानियों  से भी  रही है। इन कहानियों को लघु-कथा भी कह सकते हैं। आपने भी छोटी-छोटी लघु कहानियाँ अपने बड़ों से जरूर सुनी होगी।  'पंचतंत्र' में इस तरह की लघु-कथाओं में जीव-जंतु यानी जानवरों और पक्षियों के माध्यम से मनुष्य को नीति की शिक्षा यान

Laghu Katha Lekhan CBSE Board

    लघु कथा कैसे लिखें, उदाहरण से समझें CBSE board hindi  प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा (laghu katha)  लिखना। CBSE Board 9th class Laghu Katha lekhan दसवीं बोर्ड की कक्षा 9 के सिलेबस में और कई  बोर्ड की परीक्षा में इस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं।  (new syllabus 2020 Laghu Katha lekhan)    दिए गए प्रस्थान बिंदु (prasthan Bindu) का मतलब है कि दो या चार लाइन लघुकथा के दिए होते हैं। उसके बाद आपको 80 से 100 शब्दों में लघुकथा को पूरा करना होता है। उसका एक शीर्षक (title) लिखना होता है।  नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy) में भाषा में रचनात्मक लेखन (Creative Writing) को बढ़ावा दिया गया है। इसलिए  हिंदी Hindi, अंग्रेजी, मराठी  उर्दू किसी भी भाषा के पेपर में संवाद लेखन, लघुकथा, लेखन अनुच्छेद, (anuchchhed lekhan) लेखन विज्ञापन लेखन, (Vigyapan lekhan) सूचना लेखन (Hindi mein Suchna lekhan) जैसे टॉपिक में नई शिक्षा नीति के ( new education policy 2020) अंतर्गत सिलेबस में रखे गए हैं।  लघुकथा लेखन 9 व 10 की परीक्षा में पूछा जाता है Laghu katha lekhan in Hindi in board examination आप ह

Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe/ लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें?

    लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें? Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe लघुकथा लेखन उदाहरण सहित    कई बोर्ड की परीक्षाओं (board examination CBSE board) में लघुकथा (laghu Katha) लिखने को दिया जाता है। स्टेट बोर्ड (State board) की परीक्षा में भी लघुकथा पर प्रश्न (question of laghu katha) पूछता है। लघु कथा कैसे लिखा (How To write short story in hindi) जाए? आज हम laghu katha टॉपिक पर चर्चा करने जा रहे हैं। छात्रों सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 9 के नए (CBSE board syllabus class 9 session 2020-21) सिलेबस 2020 के अनुसार हिंदी यह पाठ्यक्रम में प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा लिखने का प्रश्न इस बार आएगा। CBSE class 10 B hindi syllabus. लघु कथा लेखन पूछा जाता है। According to the new syllabus 2020 of class 9 of CBSE board students, this question of writing short story based on the point of departure in Hindi syllabus will come this time.  निम्नलिखित   प्रस्थान बिंदु के आधार पर 100 से 150 शब्दों में एक लघुकथा लिखिए। (Write a short story in 100 to 150 words based on t