इन्टरनेट के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Internet सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

इन्टरनेट के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Internet

 इन्टरनेट के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Internet

 

 आज बिना इंटरनेट के एक पल भी हम गुजार नहीं सकते हैं। इंटरनेट के फायदे और नुकसान के बारे में अगर हम जान ले तो हमारे लिए इंटरनेट और भी उपयोगी हो जाएगा। इस आर्टिकल में इंटरनेट के फायदे और नुकसान के बारे में (Advantages and Disadvantages of Internet)  पॉइंट वाइज जानकारी दी जा रही है-



 इंटरनेट क्या है?


 सबसे पहले इंटरनेट के बारे में जान लीजिए  इंटरनेट के फायदे और नुकसान के बारे में समझना आसान हो जाएगा।  इंटरनेट एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर से जुड़ा हुआ एक बड़ा जाल है। कोई भी सूचना हमें सरवर के माध्यम से हमारे  कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस पर इंटरनेट के माध्यम से मिलती है। दूसरे शब्दों में TCP/IP Protocol के माध्यम से दो कंप्यूटरों के बीच  इन सूचनाओं का आदान प्रदान  को internet कहते हैं। इंटरनेट  दुनिया का विशालतम नेटवर्क है 



इन्टरनेट के फायदे  (Advantages of Internet – Benefits of Internet)


इंटरनेट के कई फायदे हैं इसके बारे में नीचे बताया गया है। 


1. Communication (बातचीत) करना

 इंटरनेट के जरिए हम एक दूसरे से कम्युनिकेशन स्थापित कर सकते हैं यानी ऑडियो और वीडियो  कॉलिंग (audio व Video calling) के जरिए  एक दूसरे से बातचीत कर सकते हैं इसके लिए बहुत अधिक शुल्क नहीं लगता केवल आपको डाटा खर्च करना होता है। का इस्तेमाल करते हैं या calling का इस्तेमाल करते हैं या फिर Email के द्वारा भी संपर्क कर सकते हैं।



2. मनोरंजन (Entertainment)  का फायदा


इंटरनेट में सबसे अधिक बढ़ता हुआ व्यापार मनोरंजन का है।  मनोरंजन के कई कैटेगरी हैं। इन मनोरंजन के साथ शिक्षा भी जुड़ी होती है।

इन्टरनेट पर Movies, Song, video, games, का मजा उपलब्ध हैं।  ऑनलाइन मूवी देखना बहुत आसान है। अगर आपको मनोरंजन करना है तो इंटरनेट पर हर न्यूज़ चैनल और एंटरटेनमेंट चैनल के वीडियो आसानी से जब चाहे तब देख सकते हैं।  इंटरनेट का फायदा पुरानी से पुरानी मूवी या कोई वीडियो देखना हो तो आसानी से देख सकते हैं। इसके अलावा सोशल मीडिया पर चैट करके भी मनोरंजन किया जाता है। 


3. Information Sharing  सूचनाओं का आदान प्रदान


सूचनाएं शेयर करना यानी सूचनाओं का आदान प्रदान आज के समय में किसी को सफल बनाता है। आज के समय में स्टूडेंट हो या व्यापारी व का इंफॉर्मेशन सही समय पर उसे हासिल नहीं होती है या  वह इंफॉर्मेशन सही समय पर किसी को नहीं दे पाता है तो बहुत नुकसान होता है इसलिए इंफॉर्मेशन शेयरिंग इंटरनेट का जबरदस्त फायदे वाला प्लेटफार्म है। information share कर सकते हैं। Information share  के कई तरीके हैं। जैसे-Voice, Video, Text messages इत्यादि। इंटरनेट  इंफॉर्मेशन  पाने का समुद्र है, जहां पर हम information search करके कई तरह की सूचनाएं हासिल करके अपनी लाइफ और प्रोफेशनल लाइफ में आगे बढ़ सकते हैं। marketing App, Education App , social E-mail, social media सूचनाओं को शेयर कर सकते हैं।


4. Learning/ Education


शिक्षा  का नया रूप लर्निंग Learning है। किसी खास जानकारी को सीखना इंटरनेट पर बहुत आसान है इसका फायदा लॉकडाउन में सभी लोगों ने उठाया है। डिजिटल Class Room बनाये जा रहे हैं।  जिससे students अपने टॉपिक को सीख जाए Education के क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं।  विद्यार्थी इंटरनेट का फायदा उठा रहे हैं और साथ में  प्रोफेशनल लाइफ को बेहतर बनाने वाले प्रोफेशनल ही इंटरनेट से  सीख रहे हैं। एजुकेशन सिस्टम में लर्निंग  बहुत ही खास है और इंटरनेट इसमें सहायता कर रही है। आजकल लोग घर बैठे किसी भी चीज की पढाई learning कर रहे हैं। internet websites online certificate भी provide  करा रही है। लर्निंग के लिए Online educator बहुत आसानी से मिल जाते हैं और कम पैसे में आप इंग्लिश स्पोकन इंटरनेट मार्केटिंग गार्डनिंग कैसे करें,  बहुत सी जानकारी वाली चीजें सीखना इंटरनेट के जरिए आसान है। पढ़ाई के अलग-अलग तरीके टिप्स वगैराह लाभदायक है।


5. E-Commerce


 इंटरनेट के जरिए जो व्यापार होता है उसे

E-Commerce कहते हैं।  इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन online खरीदारी की जाती है उसे हम  E-commerce  category में रखते हैं। आजकल  अगर आप की गली में दुकान भी है अगर उसका इंटरनेट आईडेंटिफिकेशन यानी वेबसाइट या सोशल मीडिया पर एक्टिव नहीं है तो वह दुकान इतनी अच्छी नहीं चल पाएगी इसलिए इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन बेचना का सबसे अच्छा फायदा है।  online work  के अंतर्गत Online Movie Ticket booking, Online Job, Online Bill paying, Online reservation, Online shopping,  online tratment, online education के सभी ई-कॉमर्स है। आप  ई-कॉमर्स के जरिए अपने व्यापार को बढ़ा सकते हैं। ऐसा करना बहुत सस्ता है।



6. Online Business Promotion 


business को प्रमोट करना ऑनलाइन बहुत आसान है।  पहले  चुनिंदा खबर और टीवी चैनल पर महंगे विज्ञापन देखकर बिजनेस प्रमोशन कराया जाता था। लेकिन अब आप अपने छोटे से बिजनेस को  फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम युटुब जैसे फ्री फंड वाले ऑनलाइन बिजनेस प्रमोशन आसानी से कर सकते इसके अलावा प्रोफेशनल तरीके से भी कर सकते हैं जो बहुत सस्ता होता है।


7. Social Network के  फायदे


 इंसान सामाजिक प्राणी है और फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया साधन इस बात को साबित कर दिया है। यहां हर एक आईडी एक इंसान है। उसकी अपनी जरूरतें हैं इसलिए वह इंटरनेट से जानकारी हासिल करता है और मैं इस वक्त जारी करता है तो सोशल मीडिया का फायदा इंफॉर्मेशन शेयर करने में और अपने बिजनेस को बढ़ाने में किया जा सकता है। इंटरनेट पर communication बिजनेस है। Social Networking जैसे -Facebook, Whatsapp का सहारा  लेकर आपको अपने बिजनेस अपने व्यक्तित्व या अपनी सेवाओं को लाखों लोगों तक पहुंचा सकते हैं। 



इन्टरनेट के नुकसान 


 दुनिया की कोई भी चीज हो उसके फायदे हैं तो नुकसान भी है इसी तरह इंटरनेट  के फायदे भी हैं तो नुकसान भी है। समझदार लोग इंटरनेट की हानि से खुद को बचा भी लेते हैं और उसके फायदे से स्वयं को चमका लेती है। Disadvantages of Internet / Loss of Internet  यह बात बिल्कुल सही है।  सही और दिमाग से इंटरनेट का इस्तेमाल करके इसके नुकसान से बचा जा सकता है। इसके नुकसान के बारे में जान ले।


समय की बर्बादी Time Loss


समय से अधिक अगर आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो यह समय की बर्बादी है।  कुछ लोग बेवजह इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और इसमें काफी समय गवा देते हैं। हमें अपने जीवन में मनोरंजन शिक्षा और भौतिक लाइफ को कितना समय देना है यह समझना होगा। इंटरनेट का नशा आपको बर्बाद कर देता है।  इंटरनेट में तरह-तरह के जुएं खिलाने वाली वेबसाइट हैं, जो गेम के नाम पर आपके जेब को खाली कर देता है। वीडियो गेम करना बच्चों आंखों और मन मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव डालता है वैज्ञानिक भी मानते हैं।

 इंटरनेट के अधिक इस्तेमाल से इंसान का साइकोलॉजी बदल जाता है, चिड़चिड़ा हो जाता है और हमेशा लाभ और हानि के चक्कर में व जीवन के भौतिक सुखों का आनंद नहीं ले पाता है।

 जिस तरह काम करने की जगह होती है एक समय होता है वैसे आप इंटरनेट का इस्तेमाल करेंगे इंटरनेट नुकसानदायक नहीं होगा।  सोशल मीडिया में इतना ज्यादा सक्रिय नहीं रहना चाहिए कि आपका समय बर्बाद हो। बड़े-बड़े सेलिब्रिटी सोशल मीडिया में सोशल मीडिया मैनेजर रखते हैं उनकी बात कहां तक पहुंचाते हैं वे लोग सोशल मीडिया में इतना ज्यादा समय व्यक्तिगत तौर पर नहीं देते हैं।

 


2. Data loss डाटा की चोरी


 दोस्तों इंटरनेट की दुनिया में आपका मोबाइल में जो internet डाटा है, जिसे आपने खरीदा है। वही डाटा ही पैसा है। Data your money  इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखिए कि अधिक डाटा बेवजह खर्च करेंगे तो आप एक तरह से पैसा खर्च कर रहे हैं। कुछ वेबसाइट आपको छोड़ा है या छोटा लालच देकर आपका डाटा खर्च करवाते हैं जिससे उनको विज्ञापन और आपके डाटा का पैसा सरवर से मिलता है। 

इसके अलावा जो आप की सूचनाएं डाटा के रूप में सुरक्षित है है कर उन्हें भी चुरा सकते हैं। अगर आपने कुछ ऐसे लिंक पर क्लिक कर दिया है या अकाउंट से संबंधित ओटीपी आदि की जानकारी किसी को दे दी। तो इंटरनेट के हैकर बड़े आसानी से आपके अकाउंट को खाली कर सकते हैं और आपके डाटा को किसी कंपनी में बेच देते हैं।  इंटरनेट का ये जबरदस्त नुकसान जिससे सब लोग हैं परेशान। 

बड़े-बड़े बैंक की डाटा और बड़ी-बड़ी सरकारों का डाटा हाइक हो जाता है तो वह आम आदमी के डाटा चुटकियों में हर रोज इंटरनेट की कार कंपनियां उड़ा देती है आपको पता ही नहीं। फेसबुक में कई तरह की डाटा हमारी सुरक्षित है अभी हाल में ही फेसबुक से डाटा लीक हो गया था जिसके बाद फेसबुक के फाउंडर ने लोगों से माफी मांगी थी लेकिन तब तक या डाटा किस तरह से इस्तेमाल हो चुका होगा आप उससे अंदाजा लगा सकते हैं कि आपके पास ऐसे ऐसे कॉल आते हैं जो आपको तुरंत मालामाल बना देंगे या आपको लॉटरी लगी है आप क्लिक कर दें आपको पैसा मिल जाएगा और आप ऐसा करते ठगे जाते हैं इसकी कोई शिकायत भी नहीं हो पाती है। 


3.  इंटरनेट मुफ्त में नहीं है (Internet is not free) 


आप इस बात को गांठ बांधने की दुनिया में कोई चीज मुफ्त में नहीं मिलती है।  Internet connection provide करने वाले कंपनियों को कुछ शुल्क देना पड़ता है।

अगर आप किसी भी चीज की कीमत पैसे में चुकाते हैं तो आप एक बुद्धिमान व्यक्ति हैं। अगर आप सोचते हैं कि उसके लिए पैसा नहीं चुकाना पड़ेगा तो फिर समझ लीजिए कि इंटरनेट की दुनिया में वह आपके डाटा को चुराकर या आपके OTP जानकर अकाउंट से पैसा गायब कर देंगे। इसलिए यह मंत्र याद रखिए कि इंटरनेट में मुफ्त कुछ भी नहीं होता उसकी कीमत देनी पड़ती है। इसलिए मुफ्त वाली चीजों में लालच होता है उस जैसे लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए नहीं तो आपको नुकसान उठाना पड़ेगा। इसको सरल शब्दों में ऐसे समझिए विज्ञापन पर जवाब क्लिक करते हैं और विज्ञापन देखते हैं तो आपको जो सूचना यूट्यूब के माध्यम से या वेबसाइट के माध्यम से मिली है,  उसकी कीमत विज्ञापन दाता क्रियेटर को देता है। 



4. Virus Attack  का खतरा


कोरोनावायरस के खतरे से दुनिया जूझ रहा लेकिन कंप्यूटर में भी वायरस खतरनाक है।

इन्टरनेट के जरिए कंप्यूटर में  कोई महान वायरस program में हैकर के द्वारा भेजे जाते हैं। इंटरनेट का वायरस अटैक का आसान मतलब यह है कि यह आपके मोबाइल या कंप्यूटर डिवाइस को किडनैप कर लेते हैं। फिर डाटा अकाउंट पैसा जानकारी सूचना सब आसानी से हासिल कर लेते बड़े बड़े देश की वेबसाइट और बड़े बड़े बैंकों की वेबसाइट भी है खो चुकी है, यह खबर आप देखते रहे हैं। इन वायरस से हमारा डाटा Corrupt हो जाता है।  Virus program हमारे computer के important डाटा को delete कर देते हैं। 



5. Spam Email, Advertisement और धोखेबाजी


धोखेबाजी और लालच (Spam) का खेल इंटरनेट में चलता है। धोखेबाजी जिसे इंटरनेट की भाषा में Spam कहते हैं,  कई लोगों के अकाउंट खाली हो जाते हैं। ऑनलाइन इंटरनेट ठगी का एक बहुत बड़ा संसार भी है।  वास्तु क्यों दुनिया में अगर आप ठगे जाते हैं तो उस पर कोई कार्रवाई हो सकती है लेकिन इंटरनेट पर अगर आप ठगे गए तो आप ठग को पकड़ भी नहीं सकते हैं क्योंकि वह दूसरे देश में होता है और वहां के कानून के हिसाब से  पकड़ पाना मुश्किल होता है। बहुत सारे कंपनिया Fraud Advertisement  देती हैं। ईमेल मैसेज और कॉल के द्वारा Spam  करते हैं। ठग करने वाली कंपनियां ईमेल  के जरिए आप से सूचना हासिल कर लेते हैं। आपको पैसे की लालच  देकर E mail पर  लिंक पर क्लिक करने के लिए कहते हैं। इस लिंक से आपका अकाउंट हैक हो सकता है  भारी नुकसान होता जिसकी आप शिकायत भी नहीं कर पाते हैं।  दोस्तों इंटरनेट एक ऐसा जंगल है जहां पर हैक करने वाले चोर डाकू आपकी एक गलती की फिराक में रहते हैं। लालच देकर आप से ठगी करते हैं।  लेकिन कुछ लोगों को पैसे का ताजा देते ताकि उसे ज्यादा लोग उसके ठगी का शिकार हो।   कई अर्निंग एप लोगों को थक चुके हैं इसमें पावर बैंकिंग एप का ताजा उदाहरण आपके सामने हैं।


 इंटरनेट के नुकसान (दुष्परिणाम) पॉइंट वाइज


  • इंटरनेट की लत किसी नशे की खतरनाक होता है। इसके दुष्परिणाम के बारे में चर्चा की जा रही है।
  • इंटरनेट में फेक न्यूज़ और किसी को बदनाम करने की साजिश से लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ करता है। 
  • इंटरनेट की कलंक कथा यहीं खत्म नहीं होती है वेश्यावृति और बाल यौन शोषण जैसे मामले इंटरनेट के कारण ही बढे हैं।
  • इंटरनेट में ठगी और सोशल का मामला इतना बड़ा है कि आम इंसान भी अधिक पैसा कमाने के चक्कर में इंटरनेट पर ठगी कर रहा है। 
  • इंटरनेट में विचारों के माध्यम से लोगों को भड़काया जाता है। इंटरनेट एक तरह से विचार बम की तरह भी है।  एक समुदाय और लोगों के प्रति नफरत फैलाने में आजकल बहुत तेजी से लोगों को नुकसान पहुंचा रहा है। 
  • इंटरनेट बच्चों को उसका बचपन छीन रहा है क्योंकि इंटरनेट में बहुत से ऐसी जानकारियां हैं जो वैज्ञानिक रूप से सही नहीं है।
  • इंटरनेट में प्रामाणिकता और सही सूचना का प्रमाण देने वाली कोई संस्था नहीं है जो वेबसाइट को मॉनिटरिंग कर सके। 
  • इंटरनेट के  लाभ है उससे ज्यादा नुकसान है।  इंटरनेट का इस्तेमाल सोच समझकर बुद्धि के अनुसार करना चाहिए।
  • इंटरनेट पर किसी तरह की क्राइम की घटना घटती है तो उसकी सूचना पुलिस को जरूर देनी चाहिए ताकि इस तरह की ठगी  रोकी जा सके।
Tag

इंटरनेट के फायदे और नुकसान के बारे में बताइए

टिप्पणियाँ

Popular Article

लघु-कथा' CBSE BOARD CLASS 9 NEW SYLLABUS LAGHU KATHS LEKHAN

'लघु-कथा' CBSE BOARD CLASS 9 NEW SYLLABUS LAGHU KATHA LEKHAN  लघु और कथा शब्द से मिलकर बना हुआ है। लघु का अर्थ होता है- छोटा और कथा का अर्थ होता है-कहानी। इस तरह लघुकथा का अर्थ हुआ कि 'छोटी कहानी'। छात्रों हिंदी साहित्य को दो भागों में बाँटा गया है, पहला गद्य साहित्य और दूसरा काव्य साहित्य।  गद्य साहित्य के अंतर्गत कहानी, नाटक, उपन्यास, जीवनी, आत्मकथा विधाएँ आती हैं। इसी में लघु-कथा विधा भी 'गद्य साहित्य' का एक हिस्सा है। कहानी उपन्यास के बाद यह विधा सर्वाधिक प्रचलित भी है। आधुनिक समय में इंसानों के पास समय का अभाव होने लगा और वे कम समय में साहित्य पढ़ना चाहते थे तो  'लघु-कथा' का जन्म हुआ। लघु कथा की परंपरा हमारे संस्कृति में 'पंचतंत्र' और 'हितोपदेश' की छोटी कहानियों  से भी  रही है। इन कहानियों को लघु-कथा भी कह सकते हैं। आपने भी छोटी-छोटी लघु कहानियाँ अपने बड़ों से जरूर सुनी होगी।  'पंचतंत्र' में इस तरह की लघु-कथाओं में जीव-जंतु यानी जानवरों और पक्षियों के माध्यम से मनुष्य को नीति की शिक्षा यान

Laghu Katha Lekhan CBSE Board

    लघु कथा कैसे लिखें, उदाहरण से समझें CBSE board hindi  प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा (laghu katha)  लिखना। CBSE Board 9th class Laghu Katha lekhan दसवीं बोर्ड की कक्षा 9 के सिलेबस में और कई  बोर्ड की परीक्षा में इस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं।  (new syllabus 2021 Laghu Katha lekhan)    दिए गए प्रस्थान बिंदु (prasthan Bindu) का मतलब है कि दो या चार लाइन लघुकथा के दिए होते हैं। उसके बाद आपको 80 से 100 शब्दों में लघुकथा को पूरा करना होता है। उसका एक शीर्षक (title) लिखना होता है।  नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy) में भाषा में रचनात्मक लेखन (Creative Writing) को बढ़ावा दिया गया है। इसलिए  हिंदी Hindi, अंग्रेजी, मराठी  उर्दू किसी भी भाषा के पेपर में संवाद लेखन, लघुकथा, लेखन अनुच्छेद, (anuchchhed lekhan) लेखन विज्ञापन लेखन, (Vigyapan lekhan) सूचना लेखन (Hindi mein Suchna lekhan) जैसे टॉपिक में नई शिक्षा नीति के ( new education policy 2021) अंतर्गत सिलेबस में रखे गए हैं।  लघुकथा लेखन 9 व 10 की परीक्षा में पूछा जाता है Laghu katha lekhan in Hindi in board examination आप

Sandesh Lekan Hindi CBSE board class 10, new syllabus

   Message Writing : संदेश लेखन का प्रारूप व उदाहरण Sandesh Lekan Hindi CBSE board class 10, new syllabus New syllabus CBSE board, New Topic Sandesh Lekhan  आज हम संदेश लेखन  (message writing) के बारे में चर्चा करेंगे।  कई बोर्ड की परीक्षाओं में (CBSE board MP Board UP Board) और कंपटीशन यह आजकल संदेश लेखन पर प्रश्न आता है। इन प्रश्नों को करने के लिए आपको संदेश लेखन का ज्ञान होना जरूरी है। सीबीएससी बोर्ड के हाईस्कूल में इस बार संदेश लेखन 5 अंक का बोर्ड की परीक्षा में आएगा।   नई एजुकेशन पॉलिसी  (new education policy 2020) में  कई सब्जेक्ट  के सिलेबस में बदलाव होने वाला है। रटने की जगह समझने वाली और व्यवहारिकता कुशलता बढ़ाने वाली। इसीलिए इस बार CBSE बोर्ड की परीक्षा के सिलेबस में बदलाव किया गया है।  लेखन करना आपको आना चाहिए। जिसमें पत्र लेखन (letter writing in Hindi), अनुच्छेद लेखन (paragraph writing in Hindi), संदेश लेखन (message writing), सूचना लेखन, संवाद लेखन (dialogue writing in Hindi), सार लेखन (summary writing in Hindi) इन सब की जरूरत  पढ़े लिखे इंसान को पड़ती  है।  लेखन  कार्यालय

Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe/ लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें?

    लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें? Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe लघुकथा लेखन उदाहरण सहित    कई बोर्ड की परीक्षाओं (board examination CBSE board) में लघुकथा (laghu Katha) लिखने को दिया जाता है। स्टेट बोर्ड (State board) की परीक्षा में भी लघुकथा पर प्रश्न (question of laghu katha) पूछता है। लघु कथा कैसे लिखा (How To write short story in hindi) जाए? आज हम laghu katha टॉपिक पर चर्चा करने जा रहे हैं। छात्रों सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 9 के नए (CBSE board syllabus class 9 session 2020-21) सिलेबस 2020 के अनुसार हिंदी यह पाठ्यक्रम में प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा लिखने का प्रश्न इस बार आएगा। CBSE class 10 B hindi syllabus. लघु कथा लेखन पूछा जाता है। According to the new syllabus 2020 of class 9 of CBSE board students, this question of writing short story based on the point of departure in Hindi syllabus will come this time.  निम्नलिखित   प्रस्थान बिंदु के आधार पर 100 से 150 शब्दों में एक लघुकथा लिखिए। (Write a short story in 100 to 150 words based on t

MCQ hindi pad parichayCBSE Class 10 Hindi A व्याकरण पद परिचय | New pattern hindi pad parichay 2021

CMCQ CBSE Class 10 Hindi A व्याकरण पद परिचय | New pattern hindi pad parichay 2021 CBSE Class 10 Hindi A व्याकरण पद परिचय पद परिचय का अर्थ— जब किसी वाक्य में कोई शब्द आता है। जैसे— ज्ञान स्कूल जाता है। तो यहां पर हर शब्द व्याकरण का नियम के पालन करते हैं। ज्ञान यहां पर नामवाला शब्द है। वाक्य में आने से ये शब्द पद कहलााता है। इस पद का अपना व्याक​रण के नियम के आधार पर परिचय है। जब इसके बारे में हम व्याकरणिक नियमों के बारे में बातएंगे तो ये बताना ही पद परिचय है। ज्ञान पद का परिचय इस तरह से देंगे— ज्ञान एक पद के रूप में इस वाक्य में आया है। संज्ञा के रूप में आया है। यानि व्यक्ति​वाचक संज्ञा,एकवचन, पुल्लिंग, कर्ताकारक इसका पद परिचय है। पद का शब्द की परिभाषा— पद – जब कोई शब्द व्याकरण के नियमों के अनुसार वाक्य में प्रयोग होता है तो उसे पद कहते हैं। पद-परिचय- वाक्य में प्रयुक्त पदों का विस्तृत व्याकरणिक परिचय देना ही पद-परिचय कहलाता है। आइए सीबीएसई बोर्ड कक्षा 10  (CBSE BOARD CLASS 10) में इस टॉपिक से संबंधित MCQ बहुविकल्पी प्रश्नों को साल्व करें। पद परिचय सीबीएसई क्लास 10 हिन्दी अ पठ्यक्रम म

MCQ Vachya वाच्य class 10 cbse board new 2021

MCQ Vachya  वाच्य class 10 cbse board new 2021 CBSE Change question paper pattern in hindi. Hindi Grammar asking MCQ's. वाच्य Vachya topic given multiple cohice question with answer.     सीबीएसइ कक्षा 10 की हिन्दी  अ Syllabus 2021 में अब अधिकतर Questions Objective  टाइप के प्रश्न पूछे जाएंगें। यहां पर Vachya वाच्य टॉपिक से दे रहे हैं। Vachya Topic  में 5 में से 4  इस वाच्य टॉपिक questions आएंगे। वाच्य शब्द का अर्थ बोलने का तरीका वाच्य कहलाता है। ऐसा वाक्य जहां पर क्रिया का पर प्रभाव कर्ता, कर्म या भाव का पड़ता है तो क्रिया उसी के अनुसार परिवर्तित होती है। इस तरह से वाच्य तीन प्रकार के हुए। क्योंकि तीन तरह से क्रिया पर प्रभाव पड़ता है। यानी  1 कर्ता  2 कर्म  3 भाव तो क्रिया पर  प्रभाव पड़ने पर जब वाक्य मुख्य रूप से कर्ता प्रधान हो जाए तो उसे कर्तृवाच्य कहते है। इसी तरह से जब कर्म प्रधान वाक्य हो तो क्रिया पर प्रभाव कर्म का पड़ता है तो वाक्य कर्मवाच्य होता है। इसी तरह से जब वाक्य भाव प्रधान हो जाता है। तो उसे भाववाच्य कहते है।  उदाहरण कर्तृवाच्य के- अभिषेक ने चित्र बनाया। क्या

MCQ Ras Hindi class 10 cbse

MCQ Ras Hindi class 10 cbse MCQ Ras Hindi class 10 cbse Ras Hindi MCQ class# 10 CBSE board new# syllabus objective questions. New gyan dotcom Gmail important question topic ras रस पर क्वेश्चन आंसर यहां दिये जा रहे हैं।‌  If you have any problem of the topic of Hindi Ras write a comment, I will solve your problems within 24 hours. You have know that  multiple choice question coming Hindi grammar section class of 10.  Ras,  Rachna ke Aadhar per Vakya, Pad Parichy,  aur Vachy. रस, रचना के आधार पर वाक्य, पद परिचय और वाच्य है। यहां पर रस पर आधारित MCQ क्वेश्चन दिए जा रहे हैं यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसके अलावा कई प्रतियोगी परीक्षा के लिए भी रस पर MCQ  प्रश्न काफी आते हैं। Given 10 topic question answer objective type. रस के बहुविकल्पी प्रश्न के उत्तर भी लिखे हुए हैं। १. निम्नलिखित प्रश्नों में दिए गए चार विकल्पों में से सर्वश्रेष्ठ सही विकल्प चुनिए। रस  को काव्य की आत्मा माना जाता है। " जब किसी नाटक, काव्य में आनंद की अनुभूति होती है तो वह रस  है।  रस  काव्य की

Vigyapan Lekhan Hindi class 10

 CBSE board advertisment writing Hindi class 10 सी० बी० एस० ई० (CBSE board) बोर्ड के कक्षा - 10 हिंदी अ पाठ्यक्रम में 5 अंकों का विज्ञापन लेखन advertisment writing से प्रश्न परीक्षा में पूछा जाता है। विज्ञापन किसे कहते हैं?  विज्ञापन का उद्देश्य क्या है?  विज्ञापन कैसे लिखा जाता है?  विज्ञापन के प्रकार क्या होते हैं?  विज्ञापन की  आवश्यकताएँ क्या है?  विज्ञापन लिखे जाने पर किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। बोर्ड की परीक्षा में आप विज्ञापन किस तरह से लिखेंगे।   छात्रों आज के क्लास में विज्ञापन  के   पहलुओं के बारे में चर्चा करेंगे जो हर प्रतियोगी परीक्षा और अकैडमी परीक्षा के लिए बड़ा ही महत्वपूर्ण है।  विज्ञापन किसे कहते हैं? 'विज्ञापन' शब्द के लिए अंग्रेजी में एडवर्टाइजमेंट (Advertisement) का प्रयोग होता है।  जिसका मतलब होता है, सार्वजनिक सूचना, सार्वजनिक घोषणा अथवा ध्यानाकर्षण करना।  विज्ञापन का मतलब सूचना पहुंचाना व अपील करना होता है।   छात्रो! विज्ञापन यदि रोचक होगा तो अपनी बात अधिक से अधिक लोग तक पहुंचाई जा सकती है इसलिए विज्ञापन में रचनात्मकता का बहुत बड़ा महत्व

Multiple choice question answer New pattern Surdas lessons बहुविकल्पी प्रश्न सूरदास Hindi class 10

Multiple choice  question answer New pattern Surdas lessons बहुविकल्पी प्रश्न सूरदास  Hindi class 10 डिजिटल वीडियो पाठ के अंतर्गत हिन्दी के नए पैटर्न के अनुसार अपठित काव्यांश पर आधारित प्रश्नों की श्रृंखला में बहुविकल्पी प्रश्न पाठ सूरदास पुस्तक क्षितिज भाग 2 से। multiple choice new pattern. कक्षा 10 सीबीएसई बोर्ड में चलने वाली हिंदी का पाठ्यक्रम के नए परीक्षा पैटर्न में हम आज आपसे बहुविकल्पी प्रश्न के बारे में चर्चा करेंगे।  कक्षा 10 के नए पाठ्यक्रम में बहुविकल्पी प्रश्न पेपर (multiple choice questions) के अखंड में आएंगे जिसमें से आज हम क्षितिज भाग 2 से जो प्रश्न पूछे जाएंगे बहुविकल्पी प्रकार के उनका अध्ययन करेंगे आज क्षितिज भाग 2 का पहला पाठ सूरदास से संबंधित अपठित गद्यांश से बनने वाले प्रश्नों के उत्तर के बारे में चर्चा करेंगे और कुछ प्रश्न आपसे हल भी करवाएंगे तो आइए इस क्लास को शुरू करते हैं निम्नलिखित पठित  काव्यांश को पढ़कर दिए गए प्रश्नों के उत्तर विकल्पों से चुनकर लिखिए-  ऊधौ, तुम हौ अति बड़भागी। अपरस रहत सनेह तगा तैं, नाहिन मन अनुरागी। पुरइनि पात रहत जल भीतर, ता रस देह न दागी।

Alankar hindi objective question answer CBSE Class 9, 10, 11, 12

  Alankar hindi objective question answer  CBSE Class 9, 10, 11, 12 अलंकार Alankar# Cbse#  Multiple and objective Question very Impotent for you. Given Question Answer for total syllabus of CBSE Class 9 to 12 अलंकार पर आ​धारित प्रश्न सीबीएसई बोर्ड के न्यू पैटर्न पर। कक्षा 9 के सिलेबस में है। कक्षा 10 में भी अलंकार से प्रश्न पूछ लेता है। ये प्रश्न अपछित काव्यांश या पठित कविता में से अलंकार पहचानने वाला प्रश्न होता है।  Alankar-hindi-objective-question-answer-CBSE-Class-9-10-11-12 अलंकार काव्य के सौंदर्य में अभिवृद्धि करते हैं। काव्य की शोभा अलंकार बढ़ाता है। अलंकार के दो भेद होते हैं- 1. शब्दालंकार 2. अर्थालंकार जहाँ पर वर्णों की आवृत्ति अनुप्रास अलंकार कहलाती हैं। यहां पर वर्ण का मतलब अक्षर से है। एक शब्द का अलग अलग अर्थ में एक से अधिक बार प्रयोग यमक अलंकार कहलाता है।इसे सरल भाषा में समझें—अर्थात जब एक ही शब्द एक या दो से अधिक बार आता है परंतु उसके मतलब अलग अलग होता है। तो उसे कहते हैं।  जहाँ एक शब्द एक ही बार प्रयोग में आए लेकिन उसका अर्थ अलग-अलग हो तो उसे श्लेष अलंकार कहते हैं। श