CBSE Class 6 Hindi अनुच्छेद-लेखन

CLASS 6 PARAGRAPH WRITING

Last Updated on December 16, 2023 by Abhishek pandey

Anuchchhed lekhan Hindi CBSE Class 6 Hindi का अनुच्छेद यहां पर दिया जा रहा है। ‌ 8 – 10 पंक्तियों में लिखा गया, एक अनुच्छेद कहलाता है। ‌ विषय के बारे में के बारे में 75 से 100 शब्दों में  लिखा जाता है। निबंध की तुलना में अनुच्छेद बहुत छोटा होता है और दिए गए शीर्षक और आधार बिंदु के आधार पर लघु रूप में लिखा जाता है।

Paragraph Writing : Anuched Lekhan CBSE Class 9 and 10 new pattern

Class 6 paragraph writing in Hindi

अनुच्छेद लेखन करते समय ध्यान रखना चाहिए-

  • अनुच्छेद सरल शब्दों में लिखा जाना चाहिए।
  • दिए गए शीर्षक के आधार पर अनुच्छेद लिखना चाहिए।
  • एक पंक्ति में एक बात कही जानी चाहिए दूसरे पंक्ति में उसी से संबंधित बात को कहना चाहिए।
  • पैराग्राफ राइटिंग करते समय यह बात ध्यान रखना चाहिए कि वर्तनी की गलतियां और व्याकरण की गलतियां नहीं होनी चाहिए।
  • अनुच्छेद में एक ही बात रिपीट नहीं करनी चाहिए ‌
  • 100 शब्दों के अंदर ही अनुच्छेद समाप्त कर देना चाहिए।
  • हर अनुच्छेद में प्रारंभ और निष्कर्ष जरूर होना चाहिए।
  • अनुच्छेद के अंदर सब हेडिंग नहीं होनी चाहिए।
  • 10 से 12 पंक्तियों में लिखा गया अनुच्छेद बेहतर होता है।
  •  लिखते समय सही शब्दों का प्रयोग करना चाहिए।
  • शब्दों के सही वर्तनी रूप और व्याकरण पर ध्यान देना चाहिए।

Paragraph writing example in Hindi class 6

 निम्नलिखित विषयों में हिंदी में अनुच्छेद 75 से 100 शब्दों में लिखिए –

See also  cbse summer camp क्या है? ग्रीष्मावकाश शिविर अनुच्छेद लेखन

समय का पालन time management paragraph writing in Hindi

समय का सदुपयोग

समय किसी के लिए रुकता नहीं है। समय निरंतर आगे बढ़ता चला जाता है। इसलिए हर मनुष्य को समय का पालन करना चाहिए। बहुत से लोग समय के सदुपयोग को समझते नहीं है इसलिए वे परेशानी में पड़ जाते हैं। समय का सही उपयोग करने वाला इंसान सफलता के शिखर पर पहुंच जाता है। यदि हम समय का पालन करके नियम पूर्ण अपना काम करते हैं तो हमें किसी भी तरह की कोई चिंता नहीं होती है। संत कबीरदास जी समय के महत्व को बताते हुए कहते हैं कि काल करे सो आज कर, आज करे सो अब। पल में परलय होएगी, बहुरि करेगा कब। यानी हमें किसी भी काम को कल पर डालना नहीं चाहिए बल्कि उसे तुरंत करना चाहिए। हमारी भारतीय संस्कृति में समय का बहुत बड़ा महत्व रहा है। बड़े-बड़े संत-महात्माओं ने समय के महत्व के बारे में बताया है। समय के साथ चलने वाला इंसान ही सफलता प्राप्त करता है इसलिए हमेशा समय के महत्व को ध्यान में रखना चाहिए।

अच्छी किताबें का महत्व importance of book paragraph writing in Hindi

अच्छी किताबें सबसे अच्छी दोस्त होती हैं। क्योंकि सत्संगति का प्रभाव इंसान पर पड़ता है इसलिए आप अच्छी किताबों से दोस्ती कर लेते हैं और पढ़ते हैं तो आप में ज्ञान का विकास होता है। किताबें मनुष्य को बहुत कुछ सिखाती है। जीवन में कैसा आचरण करना चाहिए? कैसे जीवन जीना चाहिए? ये बातें बताती हैं, जिससे कि सफलता और अच्छा स्वास्थ प्राप्त हो सके। किताबें हमें ज्ञान के साथ हमारी ज्ञानेंद्रियों को सुख भी देती हैं।

पुस्तकों के अध्ययन से हम ज्ञानवान बनते हैं। बड़े-बड़े विद्वानों ने पुस्तकों से खूब अध्ययन किया, उसके बाद अपने जीवन अनुभव और ज्ञान को पुस्तक के रूप में लिखा भी। इससे पता चलता है, पुस्तक पढ़ने से ढेर सारा ज्ञान मिलता और दूसरे के विचारों को समझना आसान हो जाता है। हमारे मन-मस्तिष्क का विकास पुस्तकों से ही होता है‌। प्रारंभिक अवस्था में हमें ज्ञान नहीं होता कि कौन सी पुस्तकें हमारे लिए अच्छी हैं और कौन-सी पुस्तकें हमारे लिए बुरी हैं? इसलिए अच्छी पुस्तकों का चुनाव करने के लिए गुरुजन व माता-पिता से परामर्श जरूर लेना चाहिए।

See also  एथलीट नीरज चोपड़ा पर अनुच्छेद निबंध essay writing and paragraph writing Neeraj Chopra

Anuchchhed Lekhan hindi (Paragraph Writing) अनुच्छेद-लेखन| Example in hindi

सर्दी के मौसम पर डेढ़ सौ शब्दों में अनुच्छेद

paragraph writing in winter season in Hindi in 150 words

गर्मी के बाद बरसात वर्षा और फिर ठंडी यानी सर्दी का मौसम आता है तो कुदरत (प्रकृति) में बहुत सारे ऐसे बदलाव होते हैं, जिससे प्रकृति एक नए और सुंदर रूप में नजर आती है। ठंडी यानी सर्दी के मौसम (winter weather) पर एक अनुच्छेद लिखकर हम बता रहे हैं जो आपकी परीक्षा के लिए लाभदायक है।

सर्दी का मौसम winter season paragraph writing in Hindi

नवम्बर-दिसंबर महीने में भारत में सर्दी शुरू हो जाती है इसके साथ ही दुनिया के अनेक देशों में सर्दी का मौसम शुरू हो जाता है। गर्मी के बाद बारिश और उसके बाद सर्दी का मौसम एक अनोखा बदलाव हमारे जीवन में लाता है। सर्दी यानी ठंडी के मौसम में प्रकृति अनोखे उपहार लेकर हमारे सामने प्रस्तुत होती है।

सर्दी के मौसम में प्रकृति की तरफ से अनमोल उपहार तरह-तरह के फल सब्जियां और अनाज मिलते हैं, जो हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है और हमें पोषण प्रदान करती है। ‌‌ अधिक सर्दी पड़ने पर स्कूलों में छुट्टियां घोषित हो जाती हैं। ज्यादातर लोग अपने घरों में रहते हैं। उत्तर भारत में ठंडी में शीत लहरी चलती है जिसके कारण पूरे उत्तर भारत में तापमान बहुत तेजी से गिर जाता है। ठंडी के कारण लोग घरों से बाहर कम निकलते हैं।

तरह-तरह के गर्म खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाता है। इसके अलावा ठंडी में कई तरह के स्नान पर्व भी होते हैं जिसे बड़े धूमधाम से मनाया जाता है जिससे कि लोगों में ठंडी के प्रति उत्साह जागृत रहे। इसी ठंडी के मौसम में खिचड़ी पर्व यानी मकर संक्रांति पर्व मनाया जाता है।

See also  primary teacher paragraph writing

इस त्यौहार में तिल, मूंगफली, गुड़ इत्यादि से बने पदार्थ का सेवन किया जाता है, जो ठंडी में ऊष्मा (गर्मी) और शक्ति प्रदान करती है। ‌ ठंडी से बचने के लिए ऊनी कपड़े पहने जाते हैं और मौसम के अनुसार भोजन किया जाता है। कई तरह के शाक और सब्जियां मिलती हैं।

जिसका सेवन करके ठंडी से बचा जा सकता है। इस मौसम में खिली धूप के दिन लोग बाग-बगीचे और गंगा नदी के किनारे अपना समय बिताते हैं और हर्ष उल्लास के साथ जीवन का आनंद लेते हैं।

Note इस अनुच्छेद को एक ही पैराग्राफ में लिखिए।

example New Anuched lekhan cbse board class 9, 10 example new pattern 2024 | Anuched Lekhan सीखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिंदी में बेस्ट करियर ऑप्शन, टिप्स CBSE Board Exam tips 2024 एग्जाम की तैयारी कैसे करें, मिलेगा 99% अंक