MCQ Answer पाठ 'निराला' NIRALA बहुविकल्पी प्रश्न उत्साह और अट नहीं रही है, Hindi class 10 CBSE board सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

MCQ Answer पाठ 'निराला' NIRALA बहुविकल्पी प्रश्न उत्साह और अट नहीं रही है, Hindi class 10 CBSE board

 MCQ Answer पाठ 'निराला' NIRALA बहुविकल्पी प्रश्न उत्साह और अट नहीं रही है, Hindi class 10 CBSE board

newgyan#

 सीबीएसई बोर्ड (CBSE board class 10th) कक्षा 10 के हिंदी यह पाठ्यक्रम में-

क्षितिज भाग 2 का  5th chapter उत्साह और अट नहीं रही है, कविता से गद्यांश पर आधारित बहुविकल्पी प्रश्न (multiple choice question answer practice for board exam in Hindi) नीचे दिया जा रहा है। निराला जी की ये कविता आपके सिलेबस में है।


 CBSE board has been introduced sample paper of every subjects for board examination session 2020-2021
यहां पर पठित  काव्यांश MCQ questions  दिया जा रहा है परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत उपयोगी है। it's very useful for examination for High School CBSE board.


मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन हिंदी



पाठ सूर्यकांत त्रिपाठी 'निराला' chapter बहुविकल्पी प्रश्न उत्साह और अट नहीं रही है, Hindi class 10 CBSE board



  हिंदी विषय के  बोर्ड के सैंपल पेपर में इस तरह के प्रश्न दिए हैं। इसके आधार पर कई क्वेश्चन हम यहाँ पर दे रहे हैं।

 निराला जी की कविता जो आप के पाठ्यक्रम में है। 

उत्साह

अट नहीं रही 

कविता और अपठित काव्यांश  पर आधारित एमसीक्यू कुछ सैंपल  क्वेश्चन यहां पर दिए जा रहे हैं-



 निम्नलिखित पद्यांश को पढ़कर दिए प्रश्नों के उत्तरार्थ सबसे उचित विकल्प लिखिए-


(उपरोक्त प्रश्न का इंग्लिश में अर्थ After reading the following passage, write the most appropriate option for the questions given.)


 बादल, गरजो!

घेर घेर घोर गगन, धाराधर ओ!

ललित ललित, काले घुँघराले,

बाल कल्पना के से पाले,

विद्युत छबि उर में, कवि, नवजीवन वाले!

वज्र छिपा, नूतन कविता

फिर भर दो

बादल गरजो!


1. बादल को किसके समान बताया गया है?

  1. काले घुँघराले बालों के समान

  2.  प्रेम के समान

  3. नदियों के समान

  4. रुई के समान


उत्तर- I. काले घुँघराले बालों के समान


2.  यह कविता किस युग की है-

  1.  भक्ति  युग 

  2. प्रगतिशील युग 

  3. छायावादी युग 

  4. प्रयोगवादी युग


 उत्तर- III. छायावादी युग 


3. पुनरुक्तिप्रकाश अलंकार का उदाहरण है-

  1.  ललित ललित, घेर घेर

  2.  बादल गरजो

  3.  काले घुँघराले

  4.  उपरोक्त में कोई नहीं

 उत्तर- I. ललित ललित, घेर घेर


 4.  नूतन कविता कैसी होनी चाहिए?

  1.  प्रेम की कविता होनी चाहिए

  2.  नवजीवन चेतना का संचार करने वाली  होनी चाहिए

  3.  बादल गरजने वाली होनी चाहिए

  4.  समस्या सुलझाने वाली होनी चाहिए


 उत्तर-II. नवजीवन चेतना का संचार करने वाली  होनी चाहिए


5.  इस कविता में कवि किसका आह्वान कर रहा है?

  1.  बच्चों से

  2.  बादलों से

  3.  पहाड़ों, नदियों से

  4.  विद्युत से


 उत्तर- II.  बादलों से


निम्नलिखित में से निर्देशानुसार विकल्पों का चयन कीजिए:-

1. बादलों के उर में क्या छुपा हुआ है?

  1. वज्रपात करने वाली विद्युत छवि छुपी हुई है

  2. काले घुँघराले बाल छुपे हुए हैं

  3. प्रचंड गर्मी छुपी हुई है

  4. बारिश का पानी छुपा हुआ है


2. बादल किस दिशा से आ रहे हैं?

  1. पश्चिम दिशा से

  2. पूरब दिशा से

  3. दक्षिण दिशा से

  4. अज्ञात दिशा से


उत्तर 1. I , 2. IV


'अट नहीं रही' कविता के पद्यांश आधारित MCQ question



अट नहीं रही है

आभा फागुन की तन

सट नहीं रही है।

कहीं साँस लेते हो,

घर-घर भर देते हो,

उड़ने को नभ में तुम

पर-पर कर देते हो,

आँख हटाता हूँ तो

हट नहीं रही है।


1.  किसकी आभा हट नहीं रही है?

  1. उड़ने वाले पक्षियों की

  2. फागुन की

  3. घर की

  4. नायिका की


उत्तर- II फागुन की


2. कवि किस की सुंदरता का वर्णन कर रहा है?

  1. बादलों 

  2. नायिका 

  3. फागुन

  4. नदियों


उत्तर- III.  फागुन


3. घर-घर और पर-पर में कौन सा अलंकार है?

  1. अनुप्रास अलंकार

  2. पुनरुक्तिप्रकाश अलंकार

  3. उपमा अलंकार

  4. श्लेष अलंकार


उत्तर- II. पुनरुक्तिप्रकाश अलंकार


4. आकाश में पंख फैलाकर कौन उड़ जाना चाहता है?

  1. चिड़िया उड़ जाना चाहता है।

  2. कवि का पक्षी-मयूर रूपी मन उड़ जाना चाहता है।

  3. बादल उड़ जाना चाहते हैं।

  4. उपरोक्त में कोई नहीं


उत्तर- II. कवि का पक्षी-मयूर रूपी मन उड़ जाना चाहता है।


5. "कहीं सांस लेते हो, घर घर भर देते हो,"- इन पंक्तियों का अर्थ है-

  1. बादलों का सांस लेना

  2. फागुन की हर सांस से सुगंधित हवा का झोंका निकलता है, जिससे चारों तरफ का वातावरण सुगंधित एवं मादक हो जाता है ‌

  3. कवि फागुन की हरियाली को महसूस करता है।

  4. उपरोक्त में से कोई नहीं


उत्तर- II. फागुन की हर सांस से सुगंधित हवा का झोंका निकलता है, जिससे चारों तरफ का वातावरण सुगंधित एवं मादक हो जाता है ‌


निम्नलिखित में से निर्देशानुसार विकल्पों का चयन कीजिए:-


1. हरा और लाल विशेषण किसके लिए प्रयोग किया गया है?

  1. बादल और फूल के लिए

  2. पत्तों के लिए

  3. पेड़ पौधों के लिए

  4. फागुन के लिए


2.  पाट- पाट का अर्थ-

  1. जगह- जगह

  2. ऊपर नीचे

  3. आकाश पर

  4. धरती पर


3. 'अट नहीं रही है' कविता के कवि का नाम बताइए-

  1. जयशंकर प्रसाद

  2. सूर्यकांत त्रिपाठी 'निराला'

  3. नागार्जुन

  4. मंगलेश डबराल


उत्तर-

1.II. पत्तों के लिए

2. I.जगह- जगह

3. II. सूर्यकांत त्रिपाठी 'निराला'


We hope the given NCERT MCQ Questions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 5

उत्साह और अट नहीं रही है. Cbse board class 10th hindi Multiple choice question answer hindi subjects 2020-21


If you have any queries regarding उत्साह और अट नहीं रही CBSE Class 10 Hindi Kshitij MCQs Multiple Choice Questions with Answers, drop a comment below and we will get back to you soon.


 newgyan.com copyright 2020-21


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लघु-कथा' CBSE BOARD CLASS 9 NEW SYLLABUS LAGHU KATHS LEKHAN

'लघु-कथा' CBSE BOARD CLASS 9 NEW SYLLABUS LAGHU KATHA LEKHAN  लघु और कथा शब्द से मिलकर बना हुआ है। लघु का अर्थ होता है- छोटा और कथा का अर्थ होता है-कहानी। इस तरह लघुकथा का अर्थ हुआ कि 'छोटी कहानी'। छात्रों हिंदी साहित्य को दो भागों में बाँटा गया है, पहला गद्य साहित्य और दूसरा काव्य साहित्य।  गद्य साहित्य के अंतर्गत कहानी, नाटक, उपन्यास, जीवनी, आत्मकथा विधाएँ आती हैं। इसी में लघु-कथा विधा भी 'गद्य साहित्य' का एक हिस्सा है। कहानी उपन्यास के बाद यह विधा सर्वाधिक प्रचलित भी है। आधुनिक समय में इंसानों के पास समय का अभाव होने लगा और वे कम समय में साहित्य पढ़ना चाहते थे तो  'लघु-कथा' का जन्म हुआ। लघु कथा की परंपरा हमारे संस्कृति में 'पंचतंत्र' और 'हितोपदेश' की छोटी कहानियों  से भी  रही है। इन कहानियों को लघु-कथा भी कह सकते हैं। आपने भी छोटी-छोटी लघु कहानियाँ अपने बड़ों से जरूर सुनी होगी।  'पंचतंत्र' में इस तरह की लघु-कथाओं में जीव-जंतु यानी जानवरों और पक्षियों के माध्यम से मनुष्य को नीति की शिक्षा यान

Laghu Katha Lekhan CBSE Board

    लघु कथा कैसे लिखें, उदाहरण से समझें CBSE board hindi  प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा (laghu katha)  लिखना। CBSE Board 9th class Laghu Katha lekhan दसवीं बोर्ड की कक्षा 9 के सिलेबस में और कई  बोर्ड की परीक्षा में इस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं।  (new syllabus 2020 Laghu Katha lekhan)    दिए गए प्रस्थान बिंदु (prasthan Bindu) का मतलब है कि दो या चार लाइन लघुकथा के दिए होते हैं। उसके बाद आपको 80 से 100 शब्दों में लघुकथा को पूरा करना होता है। उसका एक शीर्षक (title) लिखना होता है।  नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy) में भाषा में रचनात्मक लेखन (Creative Writing) को बढ़ावा दिया गया है। इसलिए  हिंदी Hindi, अंग्रेजी, मराठी  उर्दू किसी भी भाषा के पेपर में संवाद लेखन, लघुकथा, लेखन अनुच्छेद, (anuchchhed lekhan) लेखन विज्ञापन लेखन, (Vigyapan lekhan) सूचना लेखन (Hindi mein Suchna lekhan) जैसे टॉपिक में नई शिक्षा नीति के ( new education policy 2020) अंतर्गत सिलेबस में रखे गए हैं।  लघुकथा लेखन 9 व 10 की परीक्षा में पूछा जाता है Laghu katha lekhan in Hindi in board examination आप ह

Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe/ लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें?

    लघु कथा प्रस्थान बिंदु के आधार पर कैसे लिखें? Laghu katha prasthan bindu ke adhar per kaise likhe लघुकथा लेखन उदाहरण सहित    कई बोर्ड की परीक्षाओं (board examination CBSE board) में लघुकथा (laghu Katha) लिखने को दिया जाता है। स्टेट बोर्ड (State board) की परीक्षा में भी लघुकथा पर प्रश्न (question of laghu katha) पूछता है। लघु कथा कैसे लिखा (How To write short story in hindi) जाए? आज हम laghu katha टॉपिक पर चर्चा करने जा रहे हैं। छात्रों सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 9 के नए (CBSE board syllabus class 9 session 2020-21) सिलेबस 2020 के अनुसार हिंदी यह पाठ्यक्रम में प्रस्थान बिंदु के आधार पर लघु कथा लिखने का प्रश्न इस बार आएगा। CBSE class 10 B hindi syllabus. लघु कथा लेखन पूछा जाता है। According to the new syllabus 2020 of class 9 of CBSE board students, this question of writing short story based on the point of departure in Hindi syllabus will come this time.  निम्नलिखित   प्रस्थान बिंदु के आधार पर 100 से 150 शब्दों में एक लघुकथा लिखिए। (Write a short story in 100 to 150 words based on t