ध्वनि प्रदूषण की समस्या से अवगत कराते हुए नगर योजना अधिकारी को लगभग 80 शब्दों में एक ई-मेल लिखिए।

ध्वनि प्रदूषण पर ईमेल सीबीएसई बोर्ड क्लास 10th

Last Updated on February 5, 2024 by Abhishek pandey

नमस्कार दोस्तों इस तरह के सवाल कक्षा दसवीं और बारहवीं की परीक्षा के अलावा कंपटीशन में भी पूछे जाते हैं। ध्वनि प्रदूषण ईमेल लेखन की जानकारी के लिए ईमेल राइटिंग फॉर्मेट पर भी क्लिक करके जानकारी हासिल कर सकते हैं।

Email Writing Example के उदाहरण कक्षा 10 हिंदी | Format, Example

ध्वनि प्रदूषण की समस्या से अवगत कराते हुए 80 शब्दों में नगर योजना अधिकारी को ईमेल लेखन का उदाहरण

To -Nagayojan@… com

From-anil… gmail.com

Subject- ध्वनि प्रदूषण की समस्या के समाधान हेतु

महोदय,

नगर योजना अधिकारी

(यहां District का नाम लिखिए)

उत्तर प्रदेश।

श्रीमान ईमेल के माध्यम से यह सूचित करना चाहता हूं कि नगर में इन दिनों ध्वनि प्रदूषण (noise pollution) तीव्र गति से बढ़ रहा है। ध्वनि प्रदूषण के कारण लोग बीमार हो रहे हैं। आपसे निवेदन है कि शहर के बीचों-बीच चलने वाले कारखाने जिससे तेज ध्वनि निकलती है, इसे दूर कहीं और स्थानांतरित किया जाए।

आपका ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं कि सड़कों पर चलने वाले वाहन टेंपो, ई रिक्शा आदि से तेज म्यूजिक चलता है, इस कारण से ध्वनि प्रदूषण होता है। तेज ध्वनि और वायु प्रदूषण में अपना योगदान दे रहे पुराने मॉडल और शोर करने वाले नए मॉडल के वाहनों पर तत्काल रोक लगाई जाए। आबादी वाले क्षेत्र में लाउडस्पीकर और डीजे तेज आवाज में चलाया जाता है, इस कारण से लोग अपने मोहल्ले और कॉलोनी में ध्वनि प्रदूषण के शिकार हो रहे हैं।

See also  खेलकूद फीचर राइटिंग असाइनमेंट नेशनल ओपन स्कूल कक्षा 12वीं

ध्वनि प्रदूषण के रोकथाम के लिए लागू कानून का शक्ति से पालन करवाया जाए। आपसे विनम्र अनुरोध है कि नागरिकों के स्वास्थ्य और शहर के वातावरण को दूषित होने से बचाने के लिए प्रभावशाली कदम उठाने की कृपा करें।

आपके नगर का नगरवासी

चंपक लाल

संलग्न ध्वनि प्रदूषण से संबंधित चलचित्र वीडियो संलग्न है।

प्रदूषण की समस्या का समाधान

आपको बता दे कि ध्वनि प्रदूषण के कारण कई तरह की बीमारियां जैसे मानसिक तनाव और नींद ना आने की बीमारी बहुत तेजी से बढ़ रही है। ध्वनि प्रदूषण के रोकथाम के लिए कई तरह के कानून बने हैं जिसका शक्ति से पालन करना आवश्यक है। प्रदूषण वातावरण को दूषित तो करता ही है, इसके साथ यह एक सामाजिक बुराई है, जिसे दूर करने के लिए हम सभी लोगों को एक साथ मिलजुल कर इसके खिलाफ लड़ना है।

प्रदूषण की समस्या पर अनुच्छेद

paryavaran pradushan paragraph writing in Hindi

जब एक नया शहर बड़ा होता है तो आसपास के छोटे शहर और कस्बों के लोगों की नई उम्मीदें, नए रोजगार, नया जीवन स्टाइल मिलता है लेकिन इसके साथ ही उस शहर को घनी आबादी शहर के संसाधनों का इतना दोहन करती हैं कि शहर प्रदूषण के चक्रव्यूह में फंस जाता है।
ऐसे ही एक शहर दिल्ली है, भारत में इस तरह के कई शहर है, बढ़ते प्रदूषण के कारण खतरनाक स्थिति में पहुंच गई है। इसी चक्रव्यूह में प्रयागराज भी फंस रहा है।
प्रयागराज, वाराणसी जैसे आसपास के शहरों और कस्बों के लिए नए रोजगार नई उम्मीदों का शहर है लेकिन बढ़ते प्रदूषण और प्राकृतिक संसाधन के दोहन से जूझ रहा है। आओ इस शहर को बचाए, प्रदूषण के कानून का सख्ती से पालन करने की आवश्यकता है।

See also  CTET exam 2024 की तैयारी करने के लिए सैंपल पेपर प्रैक्टिस

ईमेल लेखन नए उदाहरण| new example email writing in Hindi for class 10th

कृत्रिम बुद्धिमत्ता Artificial Intelligence पर अनुच्छेद लेखन 

Email Lekhan Format ईमेल कैसे लिखे Hindi Class 9, 10, Email writing in Hindi examples

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिंदी में बेस्ट करियर ऑप्शन, टिप्स CBSE Board Exam tips 2024 एग्जाम की तैयारी कैसे करें, मिलेगा 99% अंक